scriptCommission's instructions for candidates of political parties | राजनीतिक दलों के लिए क्या है आयोग के निर्देश, रैली नुक्कड़ सभाएं फिलहाल इन तारीखों तक रहेंगी प्रतिबंधित | Patrika News

राजनीतिक दलों के लिए क्या है आयोग के निर्देश, रैली नुक्कड़ सभाएं फिलहाल इन तारीखों तक रहेंगी प्रतिबंधित


गोंडा आदर्श चुनाव आचार संहिता लगते ही चुनाव की सरगर्मी तेजी से बढ़ने लगी है। प्रशासन भी पूरी तरह से चुनाव कराने के लिए कमर कस ली है। इस बार जिले में 24 लाख 45 हजार मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

गोंडा

Published: January 10, 2022 09:32:24 pm

आयोग की तरफ से जारी गाइड लाइन में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को लेकर 15 जनवरी तक सभी तरह के जुलूस रैली रोड शो पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। सिर्फ संभावित दलों के प्रत्याशी अधिकतम 5 लोगों के साथ डोर टू डोर जनसंपर्क कर सकेंगे। इन तिथियों के बाद आयोग जिस तरह से दिशा निर्देश देता है। उसका अनुपालन जिला निर्वाचन अधिकारी कराएंगे। सबसे खास बात यह है इस बार महिला मतदाताओं की संख्या बढ़ी है। इनकी संख्या में 14% की वृद्धि हुई है। वही पूरे जनपद को मिला करके 146 तीसरे जेंडर के मतदाता भी अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। जनपद की सात विधानसभा क्षेत्रों के लिए आगामी 27 फरवरी को मतदान होगा।

जिला निर्वाचन अधिकारी मार्कण्डेय शाही ने प्रेस कांफ़्रेंस कर चुनाव आयोग की तरफ से जारी किए गए कार्यक्रम व गाइडलाइन की जानकारी दी। डीएम ने विधानसभा चुनाव के कार्यक्रम की जानकारी देते बताया कि जिले में पांचवें चरण के अंतर्गत मतदान होना है। जिसमें सातों विधानसभाओं में 27 फरवरी को वोट डाले जाएंगे। 1 फरवरी को अधिसूचना के साथ ही नामांकन शुरू हो जायेगा। जो 8 फरवरी तक चलेगा। 9 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच की जायेगी। तथा 11 फरवरी तक प्रत्याशी अपना नामांकन वापस ले सकेंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि 27 फरवरी को होने वाले मतदान में जिले के 13 लाख पुरुष व 11 लाख महिला मतदाता समेत 24.45 लाख मतदाता वोटिंग करेंगे। निष्पक्ष वोटिंग के लिए जिले में 1661 मतदान केंद्र व 2915 मतदेय स्थल बनाए गए हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी ने निष्पक्ष व पारदर्शी चुनाव प्रक्रिया को पूरा कराने के लिए राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ भी बैठक की और सभी को विधानसभा चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग के तरफ से जारी की गई गाइडलाइन की जानकारी दी। डीएम ने बताया कि पब्लिक रूट,चौराहों व गलियों में राजनैतिक दल किसी तरह की बैठक का नुक्कड़ नाटक का आयोजन नहीं कर सकेंगे। इन सब पर पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा। सभी को आयोग की गाइडलाइन व कोरोना प्रोटोकॉल का शत प्रतिशत पालन करना होगा। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। साथ ही अगर कोई उम्मीदवार गाइडलाइन का उलंघन करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी।
po.jpeg

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Assembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारसुरक्षा एजेंसियों की भुज में बड़ी कार्यवाही, 18 लाख के नकली नोटों के साथ डेढ़ किलो सोने के बिस्किट किए बरामदPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावKanimozhi ने जारी किया हिन्दी सब-टाइटल वाला वीडियोIndian Railways News: रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर, 22 महीने बाद लोकल स्पेशल ट्रेनों में इस तारीख से MST होगी बहालएक किस्साः जब बाल ठाकरे ने कह दिया था- मैं महाराष्ट्र का राजा बनूंगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.