scriptforgery in Basic Shiksha vibhag, 4 Teacher dismissed | बेसिक शिक्षा विभाग में फर्जीवाड़ा का एक और खुलासा, 4 शिक्षक हुए फिर बर्खास्त, वेतन रिकवरी की तैयारी जानें पूरा मामला | Patrika News

बेसिक शिक्षा विभाग में फर्जीवाड़ा का एक और खुलासा, 4 शिक्षक हुए फिर बर्खास्त, वेतन रिकवरी की तैयारी जानें पूरा मामला

गोंडा जिले में शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़ा का एक और खुलासा होने से विभाग में हड़कंप मच गया है। दूसरे का अभिलेख लगाकर अध्यापक की नौकरी हासिल करने वाले 4 शिक्षकों को बेसिक शिक्षाधिकारी ने बर्खास्त कर दिया है।

गोंडा

Updated: May 06, 2022 07:37:09 pm

बेसिक शिक्षा परिषद की समय-समय पर हुई विभिन्न शिक्षक भर्तियों में दूसरे का अभिलेख लगाकर शिक्षक की नौकरी हासिल करने वाले अध्यापकों के कारनामों की पोल एक बार फिर खुल गई है। एसटीएफ की जांच के बाद बीएसए ने 4 शिक्षकों को बर्खास्त करते हुए। संबंधित खंड शिक्षा अधिकारी को अभियोग पंजीकृत कराने के निर्देश दिए हैं। विभाग ने इन शिक्षकों द्वारा अब तक लिए गए वेतन की रिकवरी करने की भी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। बेसिक शिक्षा अधिकारी अखिलेश प्रताप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि संत कबीर नगर जिले के उमरिया गांव निवासी राजेश कुमार की वर्ष 2010 में परसपुर के प्राथमिक विद्यालय इकनिया माझा में तैनाती हुई थी। वर्ष 2014 में प्रधानाध्यापक के पद पर पदोन्नत के बाद बेलसर के प्राथमिक विद्यालय पूरे गोड़ियन मैं तैनाती दी गई। एसटीएफ ने अयोध्या के मिल्कीपुर के उच्च प्राथमिक विद्यालय में राजेश कुमार के तैनाती होने की आख्या दी है। उन्हें संबंधित शैक्षिक अभिलेख के साथ तलब होने की नोटिस दी गई थी। लेकिन वह उपस्थित नहीं हुए। वही आजमगढ़ जिले के ग्राम भदौरा खास निवासी विनोद कुमार सिंह को 2009 में मुजेहना के प्राइमरी स्कूल दुल्लापुर में नियुक्ति की गई थी। वर्ष 2016 में इनकी प्रधानाध्यापक के पद पर पदोन्नत होने के बाद प्राथमिक विद्यालय राजापुर रेतवा गाड़ा में इनको तैनाती मिली थी। इन्हें शैक्षिक प्रमाण पत्र के साथ उपस्थित होने का मौका दिया गया था लेकिन यह उपस्थित नहीं हुए। इसी तरह तीसरे शिक्षक कुलदीप का शैक्षिक अभिलेख फर्जी पाया गया इनकी तैनाती मुजेहना के प्राइमरी स्कूल पूरे सिधारी में हुई थी। शिक्षकों के फर्जीवाड़े की पोल परत दर परत खुल रही है। इटियाथोक शिक्षा क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय पृथ्वीपाल ग्रंट में प्रधानाध्यापक के पद पर तैनात जीतेंद्र कुमार यादव ने दूसरे का अभिलेख लगाकर नौकरी पाने में सफल रहे हैं। जांच में खुलासा होने के बाद उन्हें अंतिम नोटिस देकर शैक्षिक अभिलेखों के साथ तलब किया गया था। लेकिन वह उपस्थित नहीं हुए। जांच में खुलासा होने के बाद सभी चार आरोपी शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया गया है। मजे की बात यह है कि बेसिक शिक्षा विभाग की कार्यप्रणाली पर अब सवालिया निशान लग रहे हैं। बर्खास्त किए गए शिक्षक करीब 7 साल तक वेतन लेते रहे। लेकिन विभाग को इसकी भनक तक नहीं लगी। इस दौरान तमाम बेसिक शिक्षा अधिकारी की तैनाती हुई और यहां से स्थानांतरण हो कर चले गए। 4 शिक्षकों के अतिरिक्त 56 शिक्षकों को पहले ही बर्खास्त किया जा चुका है। लेकिन 2 वर्ष से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी इनसे वेतन की रिकवरी नहीं की जा सकी। इन शिक्षकों का कोई अता पता नहीं चल रहा है।
img-20220506-wa0005.jpg
चार बर्खास्त शिक्षकों से चार करोड़ वेतन की होगी रिकवरी

बेसिक शिक्षा विभाग में पूर्व में बर्खास्त किए गए 56 शिक्षकों से वेतन की रिकवरी अभी तक नहीं हो पाई। वहीं अब 4 शिक्षकों से करीब 4 करोड रुपए के वेतन रिकवरी के लिए बेसिक शिक्षा अधिकारी ने लेखा विभाग को पत्र भेजा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

अब तक 11 देशों में मंकीपॉक्स : 21 मई को WHO की इमरजेंसी मीटिंग, भारत में अलर्ट, अफ्रीकी वैज्ञानिक हैरानभीषण सडक़ हादसा: पूर्व सांसद के भतीजे समेत 4 की मौत, गैसकटर से काटकर निकाले गए शवWeather Update: दिल्ली सहित इन राज्यों में बदला मौसम ​का मिजाज, आंधी-बारिश की संभावनाMP में ओबीसी आरक्षण: जिला पंचायत 30, जनपद 20 और सरपंचों को 26 फीसदी आरक्षणपटियाला जेल में बंद Navjot Singh Sidhu ने पहली रात नहीं खाया जेल का खाना, नहीं मिला कोई VIP ट्रीटमेंटRajiv Gandhi Death Anniversary: भावुक हुए राहुल गांधी, पिता को याद कर कही दिल की बातभारतीय की शान Veer Mahaan का एक फिर खौला खून, कहा- पूरे WWE लॉकर रूम का बुरा हाल करूंगाInflation Around the World: महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.