scriptGonda DM met Halku, said, Sir, there is no house, this is the night of | जब रात में डीएम को मिले हल्कू, बोले- साहब घर नहीं, यही कटती पूस की रात | Patrika News

जब रात में डीएम को मिले हल्कू, बोले- साहब घर नहीं, यही कटती पूस की रात

locationगोंडाPublished: Dec 31, 2022 05:11:23 pm

Submitted by:

Mahendra Tiwari

यूपी के गोंडा जिले में आज भी ऐसे लोग हैं। जिनके पास रहने के लिए एक घर भी नहीं है।

Dm gonda
मुंशी प्रेमचंद की कहानी पूस की रात में गरीबी का जीवंत वर्णन किया गया है। उस जमाने में हल्कू के पास ठंड के सीजन जाड़े की रात बिताने के लिए एक कंबल भी नहीं था। ऐसी कहानियां सुनने के साथ-साथ आज भी देखने को मिल रही हैं।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.