script राजस्व अभिलेखों में खेल, मुख्य पृष्ठ पर जोगी प्रसाद, अंदर शिवनंदन लाल, ऐसे खुली पोल अब होगी जेल | Gonda game game in revenue records Jogi main page shivanandan inside o | Patrika News

राजस्व अभिलेखों में खेल, मुख्य पृष्ठ पर जोगी प्रसाद, अंदर शिवनंदन लाल, ऐसे खुली पोल अब होगी जेल

locationगोंडाPublished: Dec 28, 2023 04:46:34 pm

Submitted by:

Mahendra Tiwari

गोंडा जिले के सदर तहसील में राजस्व विभाग के लेखपाल का एक नया खेल सामने आया है। जिसे जानकर अधिकारी भी दंग रह गए।

 

20231228_164242.jpg
फोटो कोतवाली नगर जनपद गोंडा
एक ग्राम पंचायत में तैनात तत्कालीन लेखपाल ने राजस्व अभिलेखों में हेरा फेरी कर गांव सभा के खाते की जमीन बिना किसी सक्षम अधिकारी के आदेश के पत्रावली तैयार कर एक महिला के नाम लाभ लेकर पट्टा कर दिया। यह मामला जब अपर आयुक्त देवीपाटन मंडल के न्यायालय पर पहुंचा तो उन्होंने रजिस्ट्रार कानूनगो पुरुषोत्तम सिंह जांच सौंपी। जांच में खुलासा होने के बाद कानूनगो ने लेखपाल शिव नंदन लाल श्रीवास्तव के खिलाफ धोखाधड़ी सहित विभिन्न गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है।
गोंडा जिले के सदर तहसील के गांव त्रिभुवननगर ग्रन्ट से जुड़ा हुआ है। यहां पर तैनात रहे लेखपाल शिवनंदन लाल श्रीवास्तव ने गांव सभा के खाते की जमीन अर्जुन पुत्र देवी के नाम की भूमि को खतौनी में नया खाता कायम करके ग्रामसभा के नाम दर्ज कर दिया। मामला संदिग्ध पाए जाने पर अपर आयुक्त ने रजिस्ट्रार कानूनगो 6 बिंदुओं पर रिपोर्ट मांगी। जांच में खुलासा होने के बाद अपर आयुक्त देवीपाटन मंडल के निर्देश पर रजिस्ट्रार कानूनगो पुरुषोत्तम सिंह ने लेखपाल शिव नंदन लाल श्रीवास्तव के खिलाफ धोखाधड़ी सहित विभिन्न गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है।
लेखपाल के कारनामों की ऐसे खुली पोल फर्जी तरीके से गांव सभा की जमीन का कर दिया पट्टा

नगर कोतवाली पुलिस को दिए गए शिकायती पत्र में रजिस्ट्रार कानूनगो ने आरोप लगाते हुए कहा है कि सदर तहसील क्षेत्र के त्रिभुवननगर ग्रन्ट की खतौनी वर्ष 1422 से 1427 फसली के खाता संख्या-6 के गाटों के मिलान पर फर्जी पाया गया है। इसमें खतौनी के मुख्य पृष्ठ पर चस्पा स्लिप में लेखपाल का नाम जोगीप्रसाद अंकित है। किन्तु अन्दर के पन्नों पर शिवन्दन लाल श्रीवास्तव ने हस्ताक्षर किया है। षटवार्षिक खतौनी सन् 1410-1415 फसली में अर्जुन पुत्र देवी का नाम बिना किसी आधार के दर्ज किया गया है। तहसील में उपलब्ध कृषि आवंटन पत्रावली एवं पट्टा रजिस्टर ग्राम त्रिभुवन नगर ग्रन्ट में अर्जुन पुत्र देवी के नाम कृषि आवंटन होना नहीं मिला। अर्जुन पुत्र देवी के नाम कृषि आवंटन होना नहीं है। जिससे यह साबित होता है कि तत्कालीन हल्का लेखपाल शिवनन्दन लाल ने फर्जी हस्तलिखित की है। राजस्व संहिता 2006 राम गोपाल बनाम अध्यक्ष ग्रामसभा त्रिभुवन नगर ग्रन्ट में 24 नवंबर को आदेश दिया। जिसमे लेखपाल शिव नन्दन लाल श्रीवास्तव के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर नियमानुसार कार्यवाही कराने के लिए निर्देश दिया गया।
रजिस्ट्रार कानूनगो के तहरीर पर मुकदमा दर्ज

रजिस्ट्रार कानूनगो पुरुषोत्तम सिंह के शिकायती पत्र पर नगर कोतवाली पुलिस ने आरोपी लेखपाल के खिलाफ 419 420 467 468 और 471 के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दिया है।

ट्रेंडिंग वीडियो