कजली तीज की तैयारियां पूरी, कौड़िया बाजार से पृथ्वीनाथ मन्दिर तक ककरीली सड़कों से गुजरेंगे शिवभक्त

फोटो सहित सं0 6- मुख्यालय का दुःखहरण नाथ मंदिर, शांतिपूर्ण जलाभिषेक के लिए लगाएं जा रहें बल्लियां कजली तीज की तैयारियां पूरी, सड़के अधूरी कौड़िया बाजार

By: आकांक्षा सिंह

Published: 22 Aug 2017, 01:00 PM IST

गोण्डा. कजली तीज के मेले को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। इस बार प्रशासन ने सुरक्षा के व्यापक बन्दोबस्त किये हैं। शरारती तत्वों पर पैनी नजर रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाये जा रहे हैं।विश्व प्रसिद्ध ऐतिहासिक शिवलिंग पृथ्वीनाथ व दुःखहरणनाथ मन्दिर पर इस बार करनैलगंज के सरयू घाट पर करीब 6 लाख काँवरियों के पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही है। करनैलगंज से सरयू से जल भरकर पृथ्वीनाथ मन्दिर दुःखहरण नाथ मन्दिर पर शिवभक्त जलाभिषेक करते है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार ऐतिहासिक शिवलिंग पृथ्वीनाथ की स्थापना पड़ाव द्वारा अज्ञातवास के दौरान भीम द्वारा की गयी थी। अरघे समेत इसकी लम्बाई 5 फुट 5 इंच है। कहा जाता है कि एशिया भर में इतना विराटता शिवलिंग कही पर नही है।


पथरीली गड्ढा युक्त सड़कों से गुजरे नंगे पैर शिवभक्त


आर्य नगर से पृथ्वीनाथ मन्दिर तक करीब 14 किमी सड़के नंगे पैर शिवभक्तों के लिए काफी कष्टकारी साबित होगी। डीएम के निर्देश पर सार्वजनिक निर्माण विभाग इन सड़कों के जख्म को नुकीले पत्थरों से भरकर डीएम के आदेश का पालन करने के साथ-साथ अपने कर्तव्यो की इतिश्री कर रहा है। प्रशासन व जनप्रतिनिधि कुछ भी दावा करें लेकिन दो दशकों से इस सड़क पर सियासत तो खूब हुई लेकिन यह बनके पूरी नही हो सकी। वर्ष 2012 के चुनाव में तो वर्तमान विधायक ने कौड़िया में सड़क पर धान रोपकर अपने आक्रोश का इजहार किया लेकिन लगातार दो बार विधायक रहने के बाद यह सड़क नही बन सकी। यदि चुनावी वर्ष होता तो सपा, बसपा भाजपा के जनप्रतिनिधि दानवीर कर्ण बनकर मैदान में दिखायी पड़ते कोई बालू राबिस डालकर सड़क के जख्म को भरकर जनता की वाहवाही लूटते लेकिन काश चुनावी वर्ष नही तो इस बार शिवभक्तों को झेलना ही पड़ेगा।


सुरक्षा के लिए ये किये गये तैनात


काँवरियों की सुरक्षा के लिए इस बार व्यापक बन्दोबस्त किये गये इनमें दो अपर पुलिस अधीक्षक 8 सीओ, 150 उपनिरीक्षक, 850 सिपाही, 95 हेडकान्सटेबल, 110 महिला सिपाही, 3 कम्पनी पीएसी, 2 प्लाटून फ्लड पीएसी, 17 थानाध्यक्ष के अतिरिक्त पृथ्वीनाथ मंदिर पर व अम्बेडकर चैराहे से दुःखहरण नाथ मंदिर तक 6 सीसीटीवी कैमरे लगाये है।


चैड़ी हुई बैरीकेटिंग


इस बार काँवरियों की भीड़ को देखते हुए बैरीकेटिंग को चैड़ा कर दिया गया है ताकि शिवभक्तों कोई परेसानी न हो। वहीं महिलाओं के लिए 1090 नम्बर भी सुरक्षा के लिए उपयोग किये जा सकते है। खोया-पाया केन्द्र की स्थापना की गयी है। ताकि लोग आसानी से भीड़ में अपने परिजनो को ढूंढ़ सके।


डीएम बोले


कजली तीज की तैयारियों सम्बन्ध में जिलाधिकारी जेबी सिंह ने बताया कि सभी तैयारिया पूरी कर ली गयी। मार्गो को दुरुस्त करने के लिए पीडब्ल्यूडी के अभियन्ता को निर्देश दिये गये है। जिसकी मानीटरिंग की जा रही है। इस बार बैरेकेटिंग को चैड़ा कर दिया गया है। सुरक्षा दृष्टि से सीसीटीवी कैमरे भी मंदिर परिसर के आस-पास लगाये गये है।

आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned