NDRF की मदद से बाढ़ से घिरे गांवों तक पहुंचायी गई राहत सामग्री

जिले में बाढ़ का कहर जारी है। जिले के सैकड़ों गांव अभी भी बाढ़ के पानी से घिरे है।

बलरामपुर। जिले में बाढ़ का कहर जारी है। जिले के सैकड़ों गांव अभी भी बाढ़ के पानी से घिरे है। राप्ती नदी को पार कर बाढ़ से अत्यधिक प्रभावित गांवों तक पहुंच पाना भी जिला प्रशासन के लिये बड़ी चुनौती थी। NDRF की टीम भी राप्ती नदी के तेज प्रवाह से पार नहीं पा रही थी। जिला प्रशासन ने रलवे का सहारा लिया। मोटरबोट और राहत सामग्री को ट्रेन पर लदवाकर राप्ती नदी के पार पहुंचाया गया। गैंजहवा रेलवे स्टेशन को सेन्टर बनाकर प्रशासन ने मोटरबोट के सहारे बाढ़ की भीषण तबाही झेल रहे गांवों तक पहुंचना शुरु किया।

 

सीएम योगी के सख्त निर्देश पर अमल करते हुये जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधियों ने बाढ की भीषण त्रासदी झेल रहे गांवों तक पहुंचकर राहत सामग्री बांटी। NDRF की मदद से राहत सामग्री उन गांवों तक पहुंचायी जा सकी जो बुरी तरह बाढ़ के पानी से घिरे हुये है। NDRF टीम के साथ डीएम, एसपी, बीजेपी सांसद दद्दन मिश्रा और सदर विधायक पल्टूराम बाढ प्रभावित गांवों में पहुंचे और बाढ़ पीड़ितों में राहत सामग्री वितरित की। लेकिन दुर्गम भौगोलिक स्थित के कारण जिले के अभी भी सैकड़ों ऐसे गांव है जहां तक अभी कोई पहुंच नहीं सका है।

 

जिले भयंकर बाढ़ के बाद आई एनडीआरएफ की टीम बाढ़ग्रस्त क्षेत्र में लोगों के लिए वरदान साबित हो रही है। स्थानीय लोगों की सहायता से टीम दुर्गम स्थानों पर भी जाकर बचाव व राहत कार्य में लगी है। बलरामपुर देहात क्षेत्र में अपने जानवर को खोलने गया ग्रामीण बाढ़ के चपेट में आ गया जिसे बड़ी मुश्किल से एनडीआरएफ की टीम ने बचाया। पचपेड़वा क्षेत्र में विनास्कारी बाढ़ के बाद शासन प्रशासन ने अभी उनके खाने पीने के लिये भले ही कोई इन्तजाम न किया हो।

 

क्षेत्र के एक आईपीएस परिवार के लन्दन से शिक्षा प्राप्त कर स्वदेश लौटे हारुन रशीद खां ने खादर क्षेत्र के आधा दर्जन गावो में अपने निजी सहयोग से ग्रामीणों को राहत सामग्री बांटी। जिनमें भगवनपुर खादर, मधवानगर खादर, गौराभारी, कटैयाभारी, मलदा आदि गावो में पुरानी नाव से जाकर बाढ़ ग्रस्त गावो में लईया, चना, बिस्कुट व डिब्बा बंद बोतल के 800 पैकेट पानी के वितरित किये। उन्होंने अधिकारियो से वार्ता कर राहत बचाव कार्य में तेजी लाने का अनुरोध किया है। बताते चले की अभी सत्तारूढ़ बीजेपी का कोई भी नेता बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रो में जाने की जहमत नहीं उठाई है। वहीं सपा नेता महबूब खा, जियाउल्ला, प्रधान विपिन सिंह सहित दर्जनों प्रधान बाढ़ प्रभावित क्षेत्रोंमें राहत सामग्री पहुंचा रहे हैं।

Show More
आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned