फार्मासिस्ट मरीजों के साथ कर रहे खिलवाड़, शिकायत करने पर फाड़ा पर्चा

फार्मासिस्ट मरीजों के साथ कर रहे खिलवाड़, शिकायत करने पर फाड़ा पर्चा

Mahendra Pratap | Publish: Dec, 08 2017 01:34:17 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

जिले में चिकित्सक की गैर मौजूदगी में फार्मासिस्ट द्वारा मरीज को एक्सपाइर इंजेक्शन लगा दिया गया।

गोण्डा. जिले में चिकित्सक की गैर मौजूदगी में फार्मासिस्ट द्वारा मरीज को एक्सपाइर इंजेक्शन लगा दिया गया। तथा दो सौ रुपए लेकर हर तीसरे दिन एक इन्जेक्शन लगाने की सलाह देते हुए नौ इन्जेक्शन भी दे दिए गए। इन्जेक्शन लगने के बाद मरीज की परेशानी बढ़ती गई। जब उसने इसकी शिकायत की तो उसका पर्चा फाड़कर भगा दिया गया।

एक्सपायर तारीख का लगाया इंजेक्शन

मामला प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बरगदी कोट का है। ग्राम कूरी बरगदी निवासी सुभाषचन्द्र का आरोप है कि गत 4 नवम्बर को उसकी तबियत खराब थी। वह प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बरगदी पहुंचा। जहां पर चिकित्सक मौजूद नहीं थे। वहां पर फार्मासिस्ट भास्कर प्रताप सिंह मौजूद थे। उन्होंने अस्पताल का पर्चा काटा और एक नेन्ड्रोलेन नामक इंजेक्शन लगाया। इसके साथ ही उससे दो सौ रुपए लेकर नौ अतिरिक्त इन्जेक्शन भी दिए। उसके बाद हर तीसरे दिन इन्जेक्शन लगवाने की सलाह दी। इन्जेक्शन लगवाने के बाद जब वह घर पहुंचा तो उसके हाथ-पैर में ऐठंन व दर्द के साथ उलझन होने लगी। जब उसने इन्जेक्शनों को देखा तो वह एक्सपायर तारीख का था। इसकी शिकायत लेकर वह फार्मासिस्ट के पास गया तो उसका पर्चा लेकर फाड़ दिया और उसे भगा दिया।

फार्मासिस्ट से नहीं हो सकी बात

पूरे शरीर में झंझनाहट होने पर वह दूसरे चिकित्सक के पास गया। पीडित ने मामले की शिकायत सीएचसी करनैलगंज के अधीक्षक से की है। सीएचसी अधीक्षक डॉ. सुरेश चन्द्रा बताते हैं कि मामला संज्ञान में है वे प्रशिक्षण पर हैं मामले की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बरगदी के चिकित्सक डॉ. पीएन राय बताते हैं कि उनके पास दो जगह का चार्ज है उस दिन वे धनावा केंद्र पर थे। मरीज का आरोप गलत है अस्पताल के एक्सपायर इंजेक्शन को फेंक दिया गया था उसे कोई उठा ले गया तथा फार्मासिस्ट से असन्तुष्ट होकर गलत आरोप लगा रहे हैं। मामले की जांच कर ली गई है। मामले में फार्मासिस्ट से बात नहीं हो सकी।

Ad Block is Banned