scriptsatish-chandra-mishra gonda news | भाजपा दलित व ब्राह्मण विरोधी पार्टी है : सतीश चंद्र मिश्र | Patrika News

भाजपा दलित व ब्राह्मण विरोधी पार्टी है : सतीश चंद्र मिश्र

गोंडा प्रदेश की जनता ने पिछले 17 सालों में तीन-तीन पूर्ण बहुमत की सरकार है व उनके कार्यकाल को देखा है। वर्ष 2007 में मायावती की सरकार बनी जो वर्ष 2012 तक तक चली 2012 से 17 तक सपा की सरकार चली वर्ष 2017 से अब तक वर्तमान सरकार को देख रहे हैं। बहन मायावती की सरकार में किसान नौजवान सभी जाति धर्म के लोग के बीच आपसी भाईचारा था। उन्होंने सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय का नारा ही नहीं दिया था। बल्कि उसे अमलीजामा पहनाने का काम किया था।

गोंडा

Updated: December 27, 2021 07:03:43 pm

उन्होंने कहा कि बसपा ने भाजपा व सपा की तरह उत्तर प्रदेश को विनाश के रास्ते पर ले जाने का काम नहीं किया। बसपा ने सिर्फ विकास ही विकास किया। प्रदेश के साढे 29 हजार गांव तक सीसी रोड बनवाने के साथ-साथ सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई। प्रदेश में 29 हजार प्राथमिक विद्यालय तथा साढे 5 हजार जूनियर विद्यालय एक दर्जन से अधिक यूनिवर्सिटी बनाने का काम किया था।
ddj.jpeg
उन्होंने भाजपा पर तीखे प्रहार करते हुए कहा कि भाजपा ने पूरे प्रदेश में दहशत का माहौल फैला दिया है। कहते हैं कि डर के रहिए नहीं हम बुलडोजर लेकर आएंगे नहीं माने तो रोक कर ठोक देंगे। फिर गिनती गिनवाते है, कि हमने एक सौ से ज्यादा ब्राह्मण समाज के लोगों का एनकाउंटर किया है। कहां कि पूरे प्रदेश में 500 से अधिक ब्राह्मण समाज के लोगों का एनकाउंटर हुआ। यह दलित व ब्राह्मण समाज के लोगों को अपना सबसे बड़ा विरोधी मानते हैं। अल्पसंख्यक व पिछड़े वर्ग को डराने धमकाने का काम करते हैं। हाथरस में किस तरह से दलित समाज के बेटी के साथ बलात्कार हुआ। उसका पूरा परिवार बेटी का अंतिम संस्कार करने के लिए शव मांग रहा था। लेकिन परिवार को अंतिम दर्शन करने तक नहीं दिया गया। इस पूरे प्रकरण को मुख्यमंत्री स्वयं देख रहे थे। किस तरह से हाथरस का जिलाधिकारी परिवार को धमका रहा था। पुलिस वालों को मजबूर किया कि उसके मृत शरीर को ले जाओ रात के 2:30 बजे मिट्टी का तेल डालकर उसका अंतिम संस्कार किया गया। जिसको प्रदेश व देश ही नहीं बल्कि विदेशों के अखबार में पहले पेज पर छपा कि किस तरह से दलित की बेटी को मिट्टी का तेल डालकर जला दिया गया। बसपा महासचिव यहीं पर नहीं रुके उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुखिया ब्राह्मण समाज को आंखों से देखना नहीं चाहते हैं। कानपुर की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि जिसकी शादी 3 दिन पूर्व हुई थी। पहले उसके पति को गोलियों से भून दिया गया। उसके बाद उसकी पत्नी को भी उठा ले गए। जो दूसरी जगह से आई थी। उसका क्या कसूर था। पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित एसआईटी की रिपोर्ट में आया है कि षड्यंत्र के तहत इन्होंने किसानों को दबाकर मार दिया है। जिसमें अजय मिश्र टेनी व उनके लड़के का नाम आ गया है। इस पर जब मीडिया सवाल पूछती है। तो बौखलाहट में उसकी कालर पकड़ते हैं। चोर उचक्का मीडिया को बताते हैं। अगर ऐसे लोगों को यह लेकर के बैठक कर रहे हैं तो इन्होंने मान लिया है। कि प्रदेश में ब्राह्मण समाज इनको वोट नहीं करेगा। उन्होंने यहां तक कह डाला कि पूरे प्रदेश में इनके साथ महज 10 से 15 ब्राह्मण हैं। उनके भी नाते रिश्तेदार हमसे जुड़ चुके हैं। अब यह इतना परेशान हैं कि 5 से 6 ब्राह्मण नेताओं को बुलाकर बैठक कर रहे हैं। कि दोबारा कैसे ब्राह्मणों को जोड़ा जाए। प्रदेश में 3 करोड ब्राह्मण हैं। बुद्धिजीवी समाज है। वह सब इनके साथ नहीं जाएंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.