गोपालगंज: स्मृति ईरानी का विरोध कर रहे एनएसयूआई कार्यकर्ताओं को दौड़ाकर पीटा

गोपालगंज: स्मृति ईरानी का विरोध कर रहे एनएसयूआई कार्यकर्ताओं को दौड़ाकर पीटा
gopalganj

Prateek Saini | Updated: 04 Oct 2018, 05:31:35 PM (IST) Gopalganj, Bihar, India

मंत्री की सुरक्षा में बड़ी संख्या में पुलिस के जवान मौजूद थे। स्मृति के समर्थक और बीजेपी व भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ता भी उनके साथ थे...

(गोपालगंज): गोपालगंज पहुंची केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के विरोध में उतरे एनएसयूआई कार्यकर्ताओं को मंत्री को काले झंडे दिखाना भारी पड़ गया। प्रदर्शन कर रहे एनएसयूआई कार्यकर्ताओं की इस हरकत से नाराज भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने उन्हें दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। हमले में कई प्रदर्शकारियों को गंभीर चोटें आई।


स्मृति ईरानी गुरुवार दोपहर स्थानीय मिंज स्टेडियम में भाजयुमो की युवा संकल्प रैली को संबोधित करने पहुंची थीं। स्मृति ईरानी का काफिला जैसे ही पोस्ट ऑफिस मोड़ के निकट पहुंचा, सवर्ण सेना और एनएसयूआई के लोगों ने उन्हें काले झंडे दिखाए। कार्यक्रम स्थल मिंज स्टेडियम पहुंचने पर भी एनएसयूआई के लोग विरोध में नारेबाजी करते और काले झंडे दिखाने आगे आ गए। मंत्री की सुरक्षा में बड़ी संख्या में पुलिस के जवान मौजूद थे। स्मृति के समर्थक और बीजेपी व भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ता भी उनके साथ थे।

 

पुलिस के सामने ही बरसे भाजपाई

एनएसयूआई कार्यकर्ताओं को प्रदर्शन करता देख पुलिस ने उन्हें खदेडने की कोशिश की। एनएसयूआई के कार्यकर्ता लगातार काले झंडे दिखाते रहे और बीजेपी विरोधी नारे लगाते रहे। एनएसयूआई कार्यकर्ताओं की यह हरकत भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं को नागवार गुजरी। गुस्साएं भाजपाईयों ने पुलिस के सामने ही प्रदर्शनकारियों पर हमला कर दिया और पुलिस के सामने ही उन्हें दौड़ा दौड़ा कर पीटा। इस हमले में कई एनएसयूआई कार्यकर्ता घायल हो गए।


विवादों भरा रहा स्मृति का दौरा

स्मृति ईरानी का यह दौरा विवादों भरा रहा। अपने इस दौरे के दर्मियान उन्हें बहुत विरोध का सामना करना पड़ा,उनके यहां आने से पहले भी बीजेपी विरोधी गतिविधियां देखने को मिली । मीडिया रिपोर्ट के अनुसार स्मृति ईरानी के गोपालगंज पहुंचने से पूर्व बीजेपी की संकल्प रैली के पोस्टर पर छपी स्मृति ईरानी की फोटो पर असामाजिक तत्वों ने कालिख पोत दी थी । इसके पीछे किसका हाथ है अभी तक यह पता नहीं चल पाया है ।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned