मजदूरों के ढाई लाख रुपए लेकर भागा ट्रक ड्राइवर, पुलिस पकड़कर भी कुछ नहीं कर पाई

बिलखते मजदूरों (Migrant Labourers) की हालत पर दया दिखाते हुए मोहम्मदपुर थाने की पुलिस ने ट्रक समेत ड्राइवर (Truck Driver Lotted 2.5 Lakhs Of Migrant Labourers In Gopalganj) को पकड़ (Assam News) लिया। (Bihar News) मगर (west bengal news)...

By: Prateek

Updated: 22 May 2020, 07:57 PM IST

प्रियरंजन भारती...

गोपालगंज,पटना: कोरोना संकट के लॉकडाउन में सबसे अधिक शामत मजदूरों की ही आई है।इन पर कोरोना साथ घर-वापसी की ज़द्दोज़हद की भी दोहरी मार पड़ रही है। घर वापसी के दौरान एक ट्रक ड्राइवर के सामान समेत भाग जाने से असम और पश्चिम बंगाल के पचास मजदूरों को जलालपुर चेकपोस्ट पर फूट फूटकर रोने के लिए विवश होना पड़ गया है।

 

दिहाड़ी पर कर रहे थे काम

दिहाड़ी पर मुंबई में काम कर रहे असम और पश्चिम बंगाल के इन मजदूरों के पास लॉकडाउन में कोई काम बचा नहीं रह गया था। हार पछताकर घर जाने की राह निकाली। यूपी के ट्रक ड्राइवर ने पचास मजदूरों से पांच—पांच हजार रुपए यानी कुल ढाई लाख वसूले। कपड़ों, मोबाइल और शेष पैसों भरे बैग ट्रक में साथ लेकर चले मजदूर जिले के जलालपुर चेक पोस्ट पर स्क्रीनिंग कराने लगे कि सामान समेत ट्रक ड्राइवर इन्हें छोड़कर भाग निकला। ट्रक के भाग निकलने के बाद सभी वहीं फूट फूटकर रोने लग ग।

 

थाने में ट्रक को पकड़ा मगर बैग लेकर छोड़ दिया

बिलखते मजदूरों की हालत पर दया दिखाते हुए मोहम्मदपुर थाने की पुलिस ने ट्रक समेत ड्राइवर को पकड़ लिया। मगर पुलिस की बहादुरी का आलम यह कि ट्रक में रखे सामान से भरे बैग लेकर पुलिस ने ड्राइवर को ट्रक समेत चले जाने दिया। अब जलालपुर में फंसे मजदूर अपनी किस्मत पर रोने के लिए ही मजबूर हैं। मालदा के इसरामिल शेख, जुनैद, इस्माइल और असम के सरफुद्दीन को बिहार सरकार से उम्मीद लगी है कि शायद कोई व्यवस्था कर उन्हें उनके घरों तक पहुंचा दें।

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned