पूर्व मंत्री के भतीजा को बंधक बनाकर समेट ले गए राइफल व लाखों के आभूषण, पुलिस हलकान


सपा के पूर्व मंत्री रामभुआल निषाद के घर को चोरों ने खंगाला

मुख्यमंत्री के जिले में अपराधियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। पूर्व मंत्री के भतीजा को बंधक बनाकर चोरों ने लाखों रुपये कीमत के सोने-चांदी के गहने, लाइसेंसी राइफल लेकर चंपत हो गए। पूर्व मंत्री का भतीजा चिल्ला न सके इसलिए उसे बांधने केसाथ ही कोई नशीला पदार्थ सूंघा दिया। मामला बड़हलगंज क्षेत्र के दवनाडीह का है।

यह भी पढ़ें- यूपी में यहां फिर एक साथ आए सपा-बसपा, कांग्रेस भी दे रही साथ, यह हे वजह

समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता पूर्व मंत्री रामभुआल निषाद अपने पैतृक गांव में संयुक्त परिवार के साथ रहते हैं। यहां पूर्व मंत्री के चारों भाई और दो चाचा एक ही साथ रहते हैं। पूर्व मंत्री रामभुआल निषाद की मां गुलाबी देवी का पिछले दिनों निधन हो गया था। पूरा परिवार इन दिनों गांव पर ही रह रहा है।
रविवार को देर रात में खाना खाने के बाद सभी लोग सोने के लिए चले गए। कुछ लोग छत पर चले गए तो कुछ लोग कमरों में सोने चले गए। उधर, देर रात में चुपके से घर में चोर दाखिल हो गए। पूर्व मंत्री रामभुआल के भाई मनोज का बेटा आदित्य करीब डेढ़ बजे छत से नीचे पानी पीने को आया। आदित्य चिल्लाकर सबको जगा न दे इसलिए उसे बंधक बनाने के बाद चोरों ने कोई नशीला पदार्थ सुंघाकर अचेत कर दिया। इसके बाद घर के कुछ कमरों को खंगाल दिया। लाखों के आभूषण व लाइसेंसी राइफल को साथ लेते गए।

यह भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत में निभार्इ थी महत्वपूर्ण भूमिका, अब बीजेपी भेज रही घर

कुछ देर बाद जब आदित्य को होश आया तो वह चिल्लाने लगा। घरवाले जागे। परिवार के लोग जब आए तबतक चोर निकल चुके थे। पूर्व मंत्री का भतीजा आदित्य ने बताया कि करीब छह की संख्या में वे लोग थे। मुंह बांधे होने की वजह से उनको पहचान नहीं सका। पीड़ित पक्ष द्वारा दी गई तहरीर के मुताबिक 315 बोर का लाइसेंसी राइफल व सोने-चांदी के कीमती जेवरातों पर चोरों ने हाथ साफ किया है। बड़हलगंज पुलिस मामले में मुकदमा दर्ज कर ली है।
बता दें कि पूर्व मंत्री रामभुआल निषाद बीते लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार के रूप में चुनाव मैदान में थे।

यह भी पढ़ें- होटल के कमरे में युवक संग थी युवती, पुलिस ने पकड़ा तो कहने लगी दो दिन बाद शादी है छोड़ दीजिए

Show More
धीरेन्द्र विक्रमादित्य
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned