‘चाचा‘ शिवपाल को साधने के लिए बीजेपी ने लगाया ‘अंकल‘ को, इतनी सीट और इस पद का आॅफर !

‘चाचा‘ शिवपाल को साधने के लिए बीजेपी ने लगाया ‘अंकल‘ को, इतनी सीट और इस पद का आॅफर !

Dheerendra Vikramdittya | Publish: Sep, 04 2018 02:33:00 PM (IST) Gorakhpur, Uttar Pradesh, India

सपा को कमजोर करने के लिए बीजेपी चौकाने वाले दांव भी खेल सकती

समाजवादी सेकुलर मोर्चा के गठन के बाद सपा और अन्य दलों के उपेक्षित नेता-कार्यकर्ता थाह लेने में लगे हुए हैं। खुलकर कोई दिग्गज नेता तो अभी तक नहीं आ सका है लेकिन बहुत सारे लोग मौका की तलाश में हैं। सब अपनी पैनी नजर शिवपाल यादव के सेकुलर मोर्चा पर रखे हुए हैं। शिवपाल यादव से जुड़े लोगों में चर्चा यह है कि शिवपाल के मोर्चे से भारतीय जनता पार्टी गठबंधन कर सकती है। ‘चाचा‘ के मोर्चा से भाजपा का यह गठबंधन ‘अंकल‘ करा रहे हैं।
समाजवादी पार्टी और शिवपाल यादव के समाजवादी सेकुलर मोर्चा की गतिविधियों को करीब से जानने वालों के बीच यह चर्चा आम है कि सपा और उसके महागठबंधन को कमजोर करने के लिए बीजेपी ने अमर सिंह के माध्यम से चाल चलना शुरू कर दिया है। चर्चा यह है कि समाजवादी सेकुलर मोर्चा को भाजपा ने पांच सीटें देने का आॅफर दिया है। यही नहीं शिवपाल यादव के सुपुत्र आदित्य यादव के पीसीएफ अध्यक्ष पद को भी सुरक्षित करने की बात कही जा रही है। हालांकि, आधिकारिक रूप से कोई इस पर बात करने से परहेज कर रहा।
चर्चा-ए-आम यह भी है कि बीजेपी पिछड़ा वोट बैंक साधने के लिए शिवपाल यादव से गठबंधन कर यह भी संदेश देना चाह रही है कि ओबीसी अब महागबंधन के साथ नहीं बल्कि बीजेपी के पास भी बहुलता में है।
नाम न छापने की शर्त पर शिवपाल यादव से जुड़े देवरिया के एक पुराने समाजवादी कहते हैं कि सपा को कमजोर करने के लिए बीजेपी चौकाने वाले दांव भी खेल सकती है। वह उनको उपमुख्यमंत्री बनाकर अपने पाले में करने के साथ समाजवादी राजनीति में बंटवारा कर सकती है।
माना जाता रहा है कि शिवपाल यादव एक बेहतर संगठनकर्ता हैं। सपा की मजबूती में उनका अहम योगदान रहा है। सबसे अहम यह कि वह सपा की कमजोरी और मजबूती सबसे वाकिफ हैं। बीजेपी उनके मोर्चा से गठबंधन कर सपा को ठिकाने लगाने के लिए ‘पद‘ देकर लाभ उठा सकती है।

Ad Block is Banned