डीडीयू को जल्द ही 63 नए पाठ्यक्रम, कार्य परिषद की बैठक में 5 नए इस्टीट्यूट और 13 नए सेंटर्स को भी मंजूरी

  • 11 सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस को राज्य सरकार को भेजने पर सहमति

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गोरखपुर. दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय गोरखपुर में अब छात्रों को 63 नए पाठ्यक्रमों को पढ़ने का मौका मिलेगा। कार्य परिषद की बैठक में विश्वविद्यालय में 5 नए इन्स्टिट्यूट व 13 नए सेंटर के साथ 63 पाठ्यक्रमों को मंजूरी मिल गई है। कुलपति राजेश सिंह की अध्यक्षता में हुर्ठ बैठक में राज्य सरकार को भेजने के लिए 11 सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस की स्थापना पर भी सहमति बनी।


डिजिटल पर जोर

डिजिटल युग की ओर तेजी से बढ़ रहे इस समय में विश्वविद्यालय भी डिजिटल कार्यो को बढ़ावा दे रहा है। बैठक में भी इसकी झलक देखने को मिली। कुलपति ने विश्वविद्यालय के फाइल सिस्टम को डिजिटल करने की योजना भी परिषद के सामने रखी। इस योजना को कार्य परिषद की अगली बैठक में स्वीकृत के लिए लाया जाएगा। इसके पूरा होने के बाद डीडयू की कार्यप्रणाली जल्द ही कागज रहित हो जाएगी।


शिक्षकों का होगा स्वास्थ्य बीमा

वैश्विक महामारी कोरोना को ध्यान में रखते हुए कुलपति ने विश्वविद्यालय के शिक्षकों के लिए एक स्वास्थ्य सुरक्षा बीमा शुरू करने का प्रस्ताव भी रखा। उन्होंने कहा कि इस योजना को एक बीमा कंपनी के साथ विश्वविद्यालय शुरू करेगा। इससे शिक्षकों को स्वास्थ्य सम्बंधित खर्चों में मदद मिलेगी। इस योजना के प्रीमियम का एक हिस्सा विश्वविद्यालय और एक हिस्सा शिक्षक द्वारा वहन किया जाएगा।


अतिथि गृह में ठहरने का लगेगा शुल्क

बैठक में इस बात पर भी सहमति बनी की अब विश्वविद्यालय अतिथि गृह में किसी को भी निःशुल्क नहीं ठहराया जाएगा। विशिष्ठ अतिथियो के रुकने पर यह शुल्क विश्वविद्यालय द्वारा भुगतान किया जाएगा।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned