गोरखपुर विश्वविद्यालय के चार विद्यार्थी करेंगे देश का प्रतिनिधित्व, ऑनलाइन होगी प्रतियोगिता

- अंतिम चरण में चयनित विद्यार्थियों को राजदूत (एंबेसडर) के रूप में चुना जाएगा

By: Neeraj Patel

Published: 26 Nov 2020, 07:06 PM IST

गोरखपुर. दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के चार विद्यार्थियों का इंटरनेशनल यूथ मैथमेटिक्स चैलेंज (आईवाईएमसी)-2020 के अंतिम चरण के लिए चयन किया गया है। इन विद्यार्थियों में एमएससी (गणित) की सुजाता सिंह, शिवम वर्मा तथा बीएससी (गणित) द्वितीय वर्ष की निकिता गुप्ता और राहुल कुमार चौहान शामिल हैं। ये विद्यार्थी अपने मेंटर व गणित एवं सांख्यिकी विभाग के सहायक आचार्य डॉ. राजेश कुमार के निर्देशन में दिसंबर में होने वाले स्पर्धा में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे।

इंटरनेशनल यूथ मैथ चैलेंज विश्व भर के छात्रों के लिए सबसे बड़ी ऑनलाइन गणित की प्रतियोगिता है। गणित में रुझान रखने वाले छात्रों को यह सक्षम बनाता है ताकि वे अपने कौशल का प्रदर्शन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कर सकें। यह प्रतियोगिता तीन चरणों में होती है। पहला चरण क्वालिफिकेशन, दूसरा प्री फाइनल और तीसरा फाइनल राउंड का होता है।

डॉ. राजेश कुमार ने बताया की अंतिम चरण में चयनित विद्यार्थियों को राजदूत (एंबेसडर) के रूप में भी चुना जाता है। गणित एवं सांख्यिकी विभाग के अध्यक्ष प्रो. वीएस वर्मा ने कहा कि इन छात्रों ने विभाग एवं विश्वविद्यालय का मान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ाया है। कुलपति प्रो. राजेश सिंह ने चारों मेधावियों के इस सफलता पर बधाई दी और उनके बेहतरीन भविष्य की कामना की।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned