इंटरनेशनल गोल्ड स्मगलिंग गैंग का मास्टरमाइंड गोरखपुर में गिरफ्तार, छापे में मिले सोना व विदेशी नोट देख सब रह गए अवाक

इंटरनेशनल गोल्ड स्मगलिंग गैंग का मास्टरमाइंड गोरखपुर में गिरफ्तार, छापे में मिले सोना व विदेशी नोट देख सब रह गए अवाक

Dheerendra Vikramadittya | Updated: 14 Jul 2019, 09:08:01 PM (IST) Gorakhpur, Gorakhpur, Uttar Pradesh, India

  • इंटरनेशनल गैंग (International Gold smuggling gang) बैंकाक से करता है सोने की तस्करी
  • गोरखपुर में बनाया था बेस कैंप
  • नेपाल से सटे होने की वजह से तस्करी का माल कई रूट से यहां पहुंच जाता

सोने की तस्करी (Gold smuggling) करने वाले इंटरनेशनल गैंग (Gold smuggling international gang) का पर्दाफाश हुआ है। गोरखपुर से इस गैंग का मास्टर माइंड को भी भारी मात्रा में विदेशी करेंसी व सोना के साथ गिरफ्तार किया गया है। डीआरआई (DRI) (Directorate of revenue intelligence) ने आठ लोगों को गिरफ्तार किया है जिसमें दो गोरखपुर व छह लखनउ में गिरफ्तारियां हुईं है।

यह भी पढ़ें- तो यूपी में मृतक भी करा रहे बालू का अवैध खनन जिनको तलाशते पहुंच गई सीबीआई

दरअसल, डीआरआई (Directorate of revenue intelligence) को सोने की तस्करी (Gold smuggling) के संबंध में एक बड़े गैंग के बारे में काफी दिनों से सूचना मिल रही थी। 12 जुलाई की रात में बैंकाक जाने वाली एक फ्लाइट के जाने के पहले डीआरआई ने छह लोगों को अचानक से एयरपोर्ट पर ही हिरासत में ले लिया। तलाशी लेने पर इन लोगों के पास से काफी मात्रा में विदेशी मुद्रा मिला। डीआरआई टीम के मुताबिक छह लोगों के पास से एक करोड़ बीस लाख रुपये कीमत की विदेशी मुद्रा बरामद हुआ।

यह भी पढ़ें- नकली सेल टैक्स अफसर बनकर पहुंचे जांच करने, दो ट्रक सुपारी लूट ले गए

इन लोगों ने बड़ी ही चालाकी के साथ इन मुद्राओं यथा अमरिकी डाॅलर, येन व यूरो छुपा रखे थे। मुद्रा को इन लोगों ने पान मसाला के पैकेट, खाद्य सामग्रियों के पैकेट्स में छुपाया था। सोने को सूटकेस में थोड़ा अलग ढंग से रखा था। पूछताछ में इन लोगों ने मास्टर माइंड के गोरखपुर (Gold smuggling mastermind arrested in Gorakhpur) में होने की बात स्वीकारी।

यह भी पढ़ें- तेवर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ताबड़तोड़ इतने अधिकारियों को हटाए जाने का आदेश

टीम ने बिना समय गंवाए गोरखपुर पहुंचकर शहर के एक आवासीय परिसर में जय नारायण मद्धेशिया को गिरफ्तार किया। टीम को देखते ही अपने सहयोगी आशीष गुप्ता से सूटकेस में रखा सोना व विदेशी मुद्रा लेकर भागने का इशारा किया लेकिन पकड़ा गया। टीम ने छापेमारी में यहां तस्करी का चालीस लाख रुपये मूल्य का सोना व करीब तीस लाख रुपये बरामद किए। आवास जयनाराण मद्धेशिया का ही है। डीआरआई ने तलाशी लेने के बाद इसे सील कर दिया। सूत्रों के अनुसार इस आवासीय परिसर का उपयोग सोने की तस्करी (Gold smuggling) के लिए किया जाता था। बैंकाक से सोना लाकर यहीं रखते थे फिर तस्करी सोना गंतव्य तक यहीं से पहुंचता था।

यह भी पढ़ें- टिकटाॅक का वीडियो बनाने को दो दोस्तों ने लगा दी नदी में छलांग, फिर जो हुआ उससे मच गया कोहराम

इन आठ लोगों की हुई है गिरफ्तारी
मास्टर माइंड जयनारायण मद्धेशिया (Gold smuggling mastermind arrested in Gorakhpur), आशीष गुप्ता, हरिकेश मद्धेशिया, नीरज गुप्ता, मनोज कुमार सिंह, शिव कुमार, आशीष निगम और अभिषेक मद्धेशिया।

इन सामानों की हुई है बरामदगी

एक करोड़ पचास लाख रुपये कीमत की विदेशी मुद्रा डाॅलर, येन, यूरो व थाई मुद्रा के अलावा चालीस लाख का विदेशी सोना।

यह भी पढ़ें- लखनउ निदेशालय में फाॅयरिंग करने वाले बाबू की कहानी, मनचाही तैनाती पाने के लिए डाॅक्टर और स्वास्थ्य अधिकारी टेकते थे इस बाबू के द्वारे मत्था

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned