गोरखपुर में लव जेहाद का पहला मामला दर्जः पहचान छिपाकर छात्रा को भगा ले गया कर्नाटक का युवक

  • गिरफ्तारी के लिये गोरखपुर की पुलिस कर्नाटक के लिये हुई रवाना
  • रिटायर फौजी ने गोरखपुर के चिलुआताल थाने में दर्ज कराया मुकदमा Gorakhpur Love Jihad Case
  • कर्नाटक के युवक पर पहचान छिपाकर पेम जाल में फंसाने का आरोप
  • चार जनवरी से लापता है छात्रा, सुरक्षा के लिये पुलिस से लगाई गुहार

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में कथित लव जेहाद (Gorakhpur Love Jihad Case) का पहला मामला सामने आया है। एक रिटायर फौजी ने आरोप लगाया है कि कर्नाटक (Karnataka Muslim Youth) के रहने वाले महबूब नाम का युवक अपनी पहचान छिपाकर उनकी बेटी को प्रेम जाल में फंसाकर धर्मांतरण के इरादे से बहला-फुसलाकर ले गया है। उन्होंने महबूब के खिलाफ गोरखपुर के चिलुआताल थाने में अपहरण और उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश 2020 (लव जिहाद) के तहत मुकदमा दर्ज कराया है। एसएसपी के निर्देश पर क्राइम ब्रांच और थाने की पुलिस टीम आरोपी की तलाश में कर्नाटक के बीजापुर गयी है। गोरखपुर में नए अध्यादेश के तहत पहला मामला दर्ज हुआ है। इसमें प्रभावी कार्रवाई की जाने की बात कही गई है।


युवक पर आरोप है कि उसने सोशल मीडिया पर अपनी पहचान छिपाकर छात्रा से दोस्ती की और उसे भगा ले गया। रिटायर फौजी द्वारा पुलिस को दी गई जानकारी के मुताबिक बीती चार जनवरी को उन्होंने अपनी बेटी को काॅलेज ले जाकर छोड़ा तो वो वापस नहीं लौटी। काफी तलाश करने पर जब उसका कोई पता नहीं चला तो उसकी गुमशुदगी दर्ज करा दी।


पिता के मुताबिक बाद में जब उन लोगों ने और छानबीन की तो पता चला कि कर्नाटक के बीजापुर का रहने वाले महबूब नामक युवक ने अपनी पहचान बदलकर उसे प्रेम जाल में फंसाया और भगा ले गया। उनका कहना है कि उनकी बेटी को नौकरी का लालच देकर फंसाया गया है। उन्होंने बेटी का शारीरिक शोषण और उसके साथ कुछ गलत होने की आशंका जताते हुए पुलिस से मदद की गुहार लगाई।


उनकी तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया और आरोपी की तलाश में टीम भी रवाना हो गई है। पुलिस ने भी मामले में आरोपी की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। उधर इस बाबत एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने मीडिया से कहा है कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दज कर आरोपी की गिरफ्तारी के लिये टीम भेजी गई है। युवती के मिलने और आरोपित के पकड़े जाने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned