एक लाख का इनामी बदमाश विजय प्रजापति मुठभेड़ में ढेर

- काजल हत्याकांड का आरोपी था विजय

By: Sanjay Kumar Srivastava

Published: 10 Sep 2021, 02:42 PM IST

गोरखपुर. पुलिस मुठभेड़ में काजल का हत्यारा विजय प्रजापति (Vijay Prajapati) मारा गया है। फायरिंग में घायल होने के बाद विजय प्रजापति को जिला अस्पताल भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। गगहा के इस बदमाश पर एक लाख रुपए का इनाम था।

जवाबी कार्रवाई में हुआ ढेर :- गोरखपुर एसपी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि, बीती रात चेंकिंग चल रही थी। जब पुलिस टीम विजय प्रजापति के संभावित ठिकाने पर पहुंची तो विजय ने फायरिंग शुरू कर दी और भागने लगा। जवाबी कार्रवाई में एक बदमाश घायल हो गया और दूसरा भाग गया।घायल बदमाश को अस्पताल लाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। उसकी शिनाख्त विजय के रूप में हुई है। विजय ने कुछ दिन पहले छात्रा काजल की गोली मारकर हत्या कर दी थी। उस पर अपराध के दर्जनों मामले थे और एक लाख का इनाम भी था।

काजल (Kajal murder case) को गोली मारने का मामला :- बताया जा रहा है कि, गगहा इलाके के जगदीशपुर भलुआन गांव निवासी राजू नयन सिंह बांसगांव कचहरी में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं। इनका विजय प्रजापति से रुपयों के लेन देने का विवाद था। 20 अगस्त की रात में विजय प्रजापति समेत चार लोग राजू नयन सिंह के घर पहुंचे और पिटाई करने लगे। राजू नयन सिंह की बेटी काजल (17 वर्ष) इस मारपीट का वीडियो बनाने लगी। इस पर विजय प्रजापति ने काजल को गोली मार दी। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी।

मायावती ने मुख्तार अंसारी का टिकट काटा, भीम राजभर होंगे मऊ से बसपा प्रत्याशी

Sanjay Kumar Srivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned