यूपी के सरकारी स्कूलों में अब महान व्यक्तित्व में इन लोगों के बारे में पढ़ाया जाएगा

यूपी के सरकारी स्कूलों में अब महान व्यक्तित्व में इन लोगों के बारे में पढ़ाया जाएगा

Dheerendra Vikramdittya | Publish: Jun, 14 2018 02:41:16 PM (IST) Gorakhpur, Uttar Pradesh, India


डाॅ.बीआर आंबेडकर के नाम परिवर्तन के बारे में भी बच्चों को बताया जाएगा

अब सरकारी स्कूलों में बच्चे बाबा गोरखनाथ के महात्म्य के बारे में जानेंगे। बाबू बंधू सिंह की देशभक्ति के बारे में बताया जाएगा। आल्हा-उदल की वीरता के बारे में जानेंगे तो उनको स्कूल में ही बताया जाएगा कि बाबा साहेब का पूरा नाम डाॅ.भीमराव रामजी आंबेडकर है।
यूपी सरकार ने सरकारी स्कूलों के पाठ्यक्रम में बदलाव कर दिया है। इस सत्र में आई किताबों से बदले पाठ्यक्रम के अनुसार पढ़ाई होगी।
सरकारी प्राइमरी व जूनियर हाईस्कूल की कक्षाओं में पढ़ाए जाने के लिए किताबें जिलों में आनी शुरू हो गई हैं। सरकारी दावों पर यकीन करें तो 2 जुलाई तक सभी बच्चों के हाथों में किताबें होगी।
इस बार यूपी में सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चे नए पाठ्यक्रम के अनुसार पढ़ाई करेंगे। कक्षा छह के छात्र अपने पाठ्यक्रम में ढेर सारे नए महान व्यक्तित्व से रूबरू होंगे। इसके लिए महान व्यक्तित्व संबंधी पुस्तक में कई चैप्टर बढ़ाए गए हैं। क्लास 6 में पहले 32 पाठ्यक्रम थे अब 38 हो गए हैं। कक्षा 8 में जहां 33 पाठ्यक्रम थे, इस साल बढ़ाकर 38 कर दिया गया है।

क्लास छह के छात्र पढ़ेंगे बाबा गोरखनाथ, बंधू सिंह, आल्हा-उदल को

कक्षा 6 में बढ़े हुए पाठ्यक्रमों में आधा दर्जन महान व्यक्तित्व से संबंधित पाठ्यक्रम जोड़ा गया है जिनके बारे में बच्चों को बताया जाएगा। इसमें गोरखनाथ पीठ के महान संत बाबा गोरखनाथ, तरकुलहा देवी के महान भक्त और देशभक्त बाबू बंधु सिंह और बुंदेलखंड क्षेत्र के महानवीर आला-उदल को पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है।
बच्चे नेताजी सुभाष चंद्र बोस, पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री और पंडित दीन दयाल उपाध्याय और पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम को भी पढ़ेंगे।

कक्षा आठ के बच्चे पढ़ेंगे स्वामी प्रणवानंद, जेपी के बारे में

कक्षा 8 के पाठ्यक्रम में रानी अवंती बाई, रामकृष्ण, स्वामी प्रणवानंद, लोकनायक जयप्रकाश नारायण के बारे में जानेंगे। इसी क्लास में ‘महान व्यक्तिव’ पुस्तक में भारत सेवाश्रम संघ के संस्थापक एवं योगीराज गंभीरनाथ के शिष्य स्वामी प्रणवानंद की जीवनी को भी पाठ्यक्रम में शामिल कर पढ़ाया जाएगा।

बच्चे जानेंगे यातायात के नियम
यातायात जागरूकता को अब पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है। सरकारी स्कूलों के बच्चे यातायात जागरूकता के बारे में पढ़ सकेंगे। यूपी सरकार के स्कूलों में अब यातायात संबंधी नियम बच्चों को पढ़ाया और सीखाया जाएगा।

बाबा साहेब अब डाॅ.बीआर रामजी आंबेडकर हुए
बाबा साहेब के नाम पर उपजे विवाद को दरकिनार कर यूपी सरकार ने सरकारी स्कूलो में बाबा साहेब के असली नाम को पढ़ाए और बताए जाने का निर्णय लिया है। अब बच्चों की किताबों में बाबा साहेब का नाम डाॅ. भीमराव आंबेडकर न होकर डाॅ.भीमराव रामजी आंबेडकर पढ़ाया और बताया जाएगा।

Ad Block is Banned