scriptkavi sammelan organized in gorakhpur | आये थे तीर मारने, मर कर चले गये, सायकिल पर बैठे और तोड़ कर चले गये - अखिलेश द्विवेदी | Patrika News

आये थे तीर मारने, मर कर चले गये, सायकिल पर बैठे और तोड़ कर चले गये - अखिलेश द्विवेदी

जनता लाइब्रेरी के तत्वाधान में रविवार को बड़हलगंज में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया ।इस अवसर पर
देश भर के चर्चित कवियों ने समां बांधी दी। मशहूर कवि अखिलेश द्विवेदी ने श्रोताओं का खूब मनोरंजन किया।

गोरखपुर

Updated: March 21, 2022 09:36:18 pm

जनता लाइब्रेरी के तत्वाधान में रविवार को बड़हलगंज में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया ।प्रख्यात कवि अखिलेश द्विवेदी की अध्यक्षता में जनता लाइब्रेरी के संयोजक प्रणव द्विवेदी ने जनता लाइब्रेरी की प्रतिबद्धता का जिक्र किया। कार्यक्रम का संचालन कर रहे रतन शाही ने जनता लाइब्रेरी की ध्येय यात्रा और दक्षिणांचल को शिक्षांचल बनाने के उद्देश्य पर प्रकाश डाला।
kavi_sammelan.jpg
कार्यक्रम की शुरुवात माँ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन के पश्चात कवियत्री प्रियंका राय ने किया और अपनी वीर रस की कविताओं से किया। कवि लखनवी शेखर ने गत विधान सभा चुनावों में अपनी शानदार वापसी कर चुके मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आंधी पर पैरोडी सुनाकर विपक्षी दलों पर तंज कसा। उनकी रचना "बुलडोजर बुलडोजर माना नही, माना नही सब कुचल गया" लोगो ने खूब पसंद किया। कवियत्री मीरा तिवारी ने "आप तो पत्थर की मूरत हो गये और ज्यादा और ज्यादा खूबसूरत हो गए" गीत सुनाकर तालियां बटोरी। बड़हलगंज के ही उभरते युवा कवि निर्भय निनाद ने अपनी रचना "ठहर जाऊँ मैं तो ठहराव वाला हूँ - गमो में मुस्कुराता मैं, लड़का गांव वाला हूं।", "बुलडोजर भारी पड़ा, सभी हुए है पस्त - जनता ने बता दिया बाबा जी हैं मस्त" सुना कर वाहवाही बटोरी। इसके बाद आये लखीमपुर के राष्ट्रवादी कवि नवल सुधांशू ने अपनी रचनाओं "दिलों में व आंखो के अंदर रहूंगा, नदी के लिए मैं समंदर रहूंगा! तुम्हारी नजर में भले कुछ रहूं न रहूं, मैं मां की नजरों में सिकंदर रहूंगा।" से खूब वाहवाही पाया।
काव्य मंच का संचालन कर रहे इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में लॉ के प्रोफेसर डॉ. श्लेष गौतम ने "यही जज्बा रहा तो मुश्किलों का हल भी निकलेगा", "मेरी हर धड़कनों में मुल्क जिंदाबाद रहता है", ***** ..याद रखती है दुनियां मगर बस उसे, जान दे दे जो अपना वतन के लिये" कार्यक्रम के समापन दौर में आये।
अध्यक्षता कर रहे देश के वरिष्ठतम कवियों में शुमार अखिलेश द्विवेदी जिन्होंने अपनी हास्यव्यंग की रचनाओं से चारो तरफ तीर चलाये उनकी रचना "आये थे तीर मारने, मर कर चले गये, सायकिल पर बैठे और तोड़ कर चले गये", "जो हैं पढ़े लिखे वह सब सन्तरी बने, अपराधी माफिया हैं जो वह मंत्री बने, जिसने विवाह कर के अपनी पत्नी छोड़ दी वह अपने देश में हैं प्रधानमंत्री बने", "चच्चा ने राजनीति में बच्चा जिसे समझा, बच्चा वही चच्चा का भी चच्चा निकल गया", "जेल से बाहर जाने की जिद छोड़ दिया है बापू ने, जबसे सुना है राधे मां भी जेल में अंदर आने वाली है"।
इस अवसर पर चिल्लूपार के नवनिर्वाचित विधायक राजेश त्रिपाठी, सिद्धि पीठ मदरिया के महंत श्रीश दास जी, ब्लॉक प्रमुख आशीष राय, बीजेपी नेता महेश उमर, आलोक त्रिपाठी, राजीव पांडेय, आनंद त्रिपाठी, डा. परमहंस सिंह, विपिन शाही, राजेश मिश्र, लक्ष्मीनारायण गुप्ता, श्रीकांत सोनी, विपुल ओझा, सुरेश मिश्र, दिलीप मिश्र, डॉ सौरभ पांडेय, डॉ विनय श्रीवास्तव, डॉ सतीश शुक्ल,अखंड शाही, ओमप्रकाश अग्रवाल, श्रीराम अग्रवाल, सर्वेश दुबे, शिवांश तिवारी, डीएन त्रिपाठी, विनय पांडेय, रूद्रेश तिवारी, अरविंद सिंह सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। कार्यक्रम के संयोजक प्रणव
शुभम ने आगंतुको का आभार प्रकट किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

श्योक नदी में गिरा सेना का वाहन, 26 सैनिकों में से 7 की मौतआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानतआजम खान को सुप्रीम कोर्ट से फिर बड़ी राहत, जौहर यूनिवर्सिटी पर नहीं चलेगा बुलडोजरRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चMumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिटमनी लान्ड्रिंग मामले में फारूक अब्दुल्ला को ED ने भेजा समन, 31 मई को दिल्ली में होगी पूछताछ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.