स्मृति ईरानी व स्वाति सिंह की गुमशुदगी के पोस्टर लगे यूपी के इस जिले में

By: धीरेन्द्र विक्रमादित्य

Published: 15 Apr 2018, 07:09 PM IST

Gorakhpur, Uttar Pradesh, India
2/5

गोरखपुर। उन्नाव और कठुआ रेप कांड में सियासी सरगर्मी तेज होती जा रही है। महिला हितों पर विपक्ष में मुखर रहने वाली बीजेपी की नेत्री स्मृति ईरानी व यूपी सरकार की मंत्री स्वाति सिंह की कठुआ व उन्नाव कांड पर चुप्पी पर विरोध भी शुरू हो गया है। विपक्ष इन महिला नेताओं के माध्यम से बीजेपी पर हमलावर हो रहा। गोरखपुर शहर में स्मृति ईरानी व प्रदेश सरकार की मंत्री स्वाति सिंह की गुमशुदगी के पोस्टर जगह-जगह लगाए गए हैं।
कांग्रेस द्वारा लगाए गए पोस्टर में बीजेपी की दोनों महिला नेताओं पर जोरदार कटाक्ष किया गया है।

पोस्टर में मोटे अक्षरों में लिखा है कि गुमशुदा की तलाश और स्मृति ईरानी-स्वाति सिंह के फोटो लगे हैं। स्मृति ईरानी के फोटो के पास लिखा है कि 'अब कहां है घर आंगन की तुलसी। कैसे बचेंगी बहू-बेटियों की लाज। महिला अधिकारों के लिए धरना-प्रदर्शन और रोड जाम करने वाली मंत्री अब ऐसा क्यों नहीं कर र ही हैं।'
जबकि यूपी सरकार की मंत्री स्वाति सिंह का फोटो लगाकर यह पूछा गया है कि 'अपनी बेटी बेटी और दूसरों की पराई। कहां है मंत्रीजी आप बहनों को इंसाफ कब दिलाएंगी। '
फिर लिखा गया है कि पीड़ित बहनों के घर कब जाएंगी। निवेदक में जिला कांग्रेस कमेटी गोरखपुर लिखा गया है।
बता दें कि पोस्टरों को जगह-जगह चिपकाया गया है। जबकि बैनर लेकर कांग्रेसियों ने प्रदर्शन किया। जिलाध्यक्ष सैयद जमाल की देखरेख में जिला महासचिव अनवर हुसैन और महिला नेता निर्मला वर्मा के नेतृत्व में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने शहर में जुलूस निकाल कर प्रदर्शन किया। शास्त्री चैक के पास कांग्रेसियों ने बीजेपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर कठुआ और उन्नाव रेप पीड़ितों के प्रति सहानुभूति जताई।
कांग्रेस प्रवक्ता अनवर हुसैन ने कहा कि अगर ये दोनों मंत्री नहीं मिलते हैं तो वे लोग थाने में जाकर गुमशुदगी भी दर्ज कराएंगे। फिलहाल इन्हें खोजने के लिए शहर में पोस्टर लगा दिए गए हैं।
महासचिव अनवर हुसैन महिला नेता निर्मला वर्मा ने कहा कि जब बीजेपी के लोग सत्ता नही थे तो बड़े बड़े वायदे बहनों-बेटियो की सुरक्षा के लिए करते थे और अब सत्ता में हैं तो अपना वायदा भूल गए। बीजेपी के राज में बहन-बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। बलात्कार की घटनाएं बढ़ रही है और प्रधानमंत्री जी कुछ नही कर रहें हैं।
जिला साचिव मो. खालिद और महिला नेता कुसुम पण्डेय ने कहा कि स्मृती इरानी और स्वाती सिंह क्यों चुप है। महिला हित पर धरना देने वाली मंत्री अब चुप हैं। वह बताएं कि बहन-बेटियो को इंसाफ कब दिलायेंगीं।
इस प्रदर्शन में देवेन्द्र निषाद, दुर्गा राय, पूनम मिश्रा, निर्मला वर्मा, कुसुम पांडेय, धर्मराज चैहान, अमित तिवारी, अयूब अली, मो. इमरान, चंदन मद्वेशिया, आजाद हुसैन, अजय मिश्रा, संजुम आरिफ, राज कुमार पासवान आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

BJP Congress
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned