Makar Sankranti: गोरखपुर में शुरू हुआ खिचड़ी मेला, सीएम योगी ने बाबा गोरखनाथ को चढ़ाई पहली खिचड़ी

सीएम योगी ने जारी किया मकर संक्रांति डाक टिकट और डिजिटल डायरी का किया लोकार्पण

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गोरखपुर. मकर संक्रांति के अवसर गोरक्षपीठाधीश्वर और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने नाथ परंपरा को आगे बढ़ाते हुए गुरु गोरक्षनाथ के चरणों में सबसे पहले खिचड़ी चढ़ाई। इसके साथ ही नेपाल राज परिवार की ओर से भी खिचड़ी चढ़ाई गई। परंपरा का नर्वहन हो जाने के बाद रात से जुटे श्रद्धालुओं के खिचड़ी चढ़ाने का सिलसिला शुरू हो गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देशवासियों को मकर संक्रांति पर्व की ढेरों शुभकामनाएं भी दी। मकर संक्रांति पर उनके द्वारा 10 रुपए का डाक टिकट भी जारी किया किया गया और सरकार की डिजिटल डायरी का लोकार्पण भी उन्होंने किया।


गुरुवार को ब्रह्ममुहुर्त में गोरक्षपीठाधीश्वर के मकर संक्रांति पर परंपरागत पूजन अर्चन कर खिचड़ी चढ़ाने के साथ ही साथ सवा महीने चलने वाले गोरखनाथ मंदिर के खिचड़ी मेला का शुभारंभ हो गया। गोरखनाथ मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने आने वाले श्रद्धालुओं के लिए मंदिर में प्रसाद स्वरुप खिचड़ी खिलाने की परंपरा है। शुद्ध देशी घी में बनी खिचड़ी सबको पूरे दिन परोसी जाती रही।


इस दौरान मुख्यमंत्री ने मकर संक्रांति को सूर्य की उपासना का पर्व बताया। कहा कि चराचर जगत की प्रत्येक घटना सूर्य से जुड़ी है। यह पर्व देश भर में अलग-अलग नामों से मनाया जाता है। गोरखपुर में महायोगी गुरू गोरखनाथ जी को देश भर से आने वाले लाखों श्रद्घालु आस्था की पवित्र खिचड़ी चढ़ाते हैं। उन्होंने कहा कि उनका सौभाग्य है कि उन्हें ये मौका मिला। उन्होंने कहा कि देश पीएम नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में कोरोना संकट से उबर चुका है। प्रदेश में भी कोरोना के मरीजों की तादाद में भारी गिरावट आई है। यूपी में दो महीने पहले 68 हजार केस थे जो अब 10 हजार से भी कम रह गए हैं। देश में दो वैक्सीन लांच हो चुकी है और 16 जनवरी से लगना शुरू भी हो जाएगी। लेकिन जब तक ये लोगों तक नहीं पहुंचती तब तक सावधानी बनाए रखनी होगी। दो गज दूरी मास्क जरूरी का पालन जरूर करें।


खिचड़ी चढ़ाने के लिये गोरखनाथ मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने के लिए श्रद्घालु घंटों पहले से ही कतार में खड़े हो गए थे। न सिर्फ यूपी और देश के दूसरे राज्यों से बल्कि नेपाल से भी श्रद्घालु खिचड़ी चढ़ाने पहुंचे। खिचड़ी मेले को देखते हुए मंदिर में कड़ी सुरखा का इंतजाम किया गया है। चार जोन व 12 सेक्टर में बांटकर भारी सुरक्षा इंतजाम किये गए हैं। मेले को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए कई महीने पहले से ही मंदिर प्रशासन और जिला प्रशासन जुटा हुआ है।

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned