गोरखपुर में दारोगा ने मस्जिद के इमाम को पीटा, लोग हुए उग्र तो निलंबित किया गया

गोरखपुर में दरोगा द्वारा एक मस्जिद के इमाम को पीटे जाने के बाद बवाल हो गया। लोगों ने जमकर हंगामा किया, जिसके बाद दरोगा को प्रथम दृष्टया दोषी पाते हुए निलंबित कर दिया गया है।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गोरखपुर. राजघाट के तुर्कमानपुर में एक मस्जिद के बाहर इमाम का पीटे जाने को लेकर जमकर बवाल हुआ। इमाम का आरोप है कि दरोगा ने उनकी बुरी तरह पिटायी की जिसके बाद लोग नाराज हो गए और बवाल हुआ। हालांकि भीड़ ने नाॅर्मल चौकी इंचार्ज और सिपाहियों को घेर लिया। लोग आरोपी दरोगा पर कार्रवाई कर उसे तत्काल निलंबित करने की मांग पर अड़ गए। सूचना मिलते ही सीओ कोतवाली तत्काल पुलिस बल लेकर मौके पर पहुंच गए और काफी प्रयास के बाद किसी तरह लोगों को समझाकर हालात पर नियंत्रण किया। एसएसपी ने इस घटना के बाद चौकी इंचार्ज अरुण सिंह को निलम्बित कर सीओ कातवाली को जांच सौंप दी है।


मंगलवार को तुर्कमानपुर स्थित नई मस्जिद में जोहर की नमाज के बाद इमाम मु. हाशिम दो बच्चों को बैठकर कुरआन पढ़ा रहे थे। कहा जा रहा है कि शाम को वह नमाज पढ़ाकर जब मस्जिद से निकल रहे थे और उसी समय नाॅर्मल चौकी इंचार्ज अरुण सिंह हमराहियों के साथ वहां पहुंचे और वहां मौजूद लोगों को लाॅक डाउन का पालन कराने लगे। आरोप है कि मस्जिद से निकल रहे इमाम के पास पहुंचकर आरोपित दरोगा ने उन्हें अपशब्द कहे। इमाम का आरोप है कि दरोगा ने उनकी पिटाई की, जिसके बाद वह मस्जिद में जाकर छिप गए।


इस घटना के बाद लोगों का गुस्सा देख दरोगा और पुलिस कर्मी वहां से भागने लगे तो लागों ने पुलिस वालों को घेर लिया। बाद में सीओ कोतवाली ने भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर किसी तरह मामला शांत कराया। एसएसपी दिनेश कुमार पी ने मीडिया से कहा है कि प्रथम दृष्टया दरोगा की गलती पाए जाने पर उन्हें सस्पेंड कर दिया गया है। पूरे मामले की जांच कराई जा रही है।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned