ढाई वर्षों में ढाई लाख से ज्यादा युवाओं को सरकारी नौकरियां

  • गांवों के विकास के लिए खेलकूद के मैदान और ओपन जिम किए जा रहे हैं विकसित
  • ढाई वर्ष में एक लाख 20 हजार से अधिक बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों को कान्वेंट स्कूलों की तर्ज पर किया गया विकसित

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि शासन की योजनाओं को जनता से जोड़ें। अगर जनता किसी योजना से जुड़ती है, उसे अपना मानती है, तो उसका असर भी बड़ा होता है। उन्होंने कहा कि गांवों के युवाओं के विकास लिए खेलकूद के मैदान और ओपन जिम विकसित किए जा रहे हैं। इसके माध्यम से बच्चे स्वस्थ रहेंगे तथा समाज और सशक्त राष्ट्र के निर्माण में अपना योगदान दे सकेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि युवा हमारे ऊर्जा के प्रतीक हैं, जिनके लिए प्रदेश सरकार ने कई कार्यक्रम लागू किए हैं। पिछले ढाई वर्षों में 2 लाख 51 हजार से अधिक युवाओं को सरकारी नौकरी दी गई है।

Read this also: सोनू निगम बोले, गोरखपुर महोत्सव समिति ने तोड़ा कॉन्ट्रैक्ट, मैंने नहीं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को गीडा के गैलेंट इस्पात की तरफ से गोद लिए गए पूर्व माध्यमिक विद्यालय, ग्राम बसिया व द्रोपदी देवी गीता देवी विद्यालय, लुचुई के लोकार्पण अवसर आयोजित समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि हम अपने युवाओं के कौशल को निखार रहे हैं, इससे देश और दुनिया में जहां भी रोजगार की सम्भावनाएं बनेंगी, उन्हें रोजगार प्राप्त हो सकेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने युवाओं के लिए एक नई योजना की शुरुआत की है, जिसमें प्रत्येक उद्योग अपने क्षेत्र से जुड़े आईटीआई या स्किल डेवलपमेंट सेंटर को अपने साथ जोड़ेगा और युवाओं को अप्रेंटिसशिप से लाभांवित कराएगा। इसके लिए सरकार द्वारा चिन्हित युवाओं को ढाई हजार रुपये प्रतिमाह का आर्थिक सहयोग भी दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्किल डेवलपमेंट और वोकेशनल एजुकेशन से जुड़े युवा आर्थिक स्वावलंबन की तरफ बढ़ें, इसके लिए प्रत्येक जनपद में अप्रेंटिस योजना के लिए युवा हब बनाने की व्यवस्था सरकार ने बजट में की है। इसके साथ ही 40 लाख से अधिक युवाओं को प्रदेश में हुए निवेश और परम्परागत उद्यमों में रोजगार के साथ जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा विकास की योजनाओं में तेजी लाने और ढांचागत विकास के कार्यक्रमों को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाने का प्रयास किया गया है।

Read this also: किसानों के मुद्दे को लेकर गांव गांव पहुंच रहे कांग्रेसी, गिना रहे भाजपा की खामियां

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में बेसिक शिक्षा परिषद के एक करोड़ 80 लाख बच्चों को यूनिफॉर्म, बैग, किताबें, स्वेटर आदि सरकार उपलब्ध करा रही है। यही नहीं गांवों के विकास के लिए शासन द्वारा पर्याप्त धनराशि का व्यवस्थित उपयोग करते हुए ग्रामीण जनता को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराईं जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने ढाई वर्ष में एक लाख 20 हजार से अधिक बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों को कान्वेंट स्कूलों की तर्ज पर विकसित किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गैलेंट ग्रुप ने इन दो ग्राम पंचायतों में ढाई करोड़ की लागत से कई कार्यक्रमों को शुरु किया है। इससे यह पता चलता है कि ये संस्थान किस भावना के साथ यहां पर गांव के लोगों के साथ जुड़कर उन्हें नई ऊंचाईयों की ओर बढ़ने की राह दिखा रहा है। उन्होंने कहा कि सतत विकास के लिए बनी योजनाओं को समाज के प्रत्येक तबके तक पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार ने एक तंत्र विकसित किया और ढांचागत विकास को भी तेजी के साथ आगे बढ़ाया है।

धीरेन्द्र विक्रमादित्य
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned