मां ने डेढ़ साल के मासूम को पानी की टंकी में डालकर बंद कर दिया ढक्कन, जानिये क्यों की हत्या

  • गोरखपुर के भीटी गांव की घटना, अपने मायके में आयी थी आरोपी मां
  • पति ने पत्नी की दो बहनों और ससुर को किया था हत्या में नामजद
  • पुलिस की पूछताछ में टूट गई पत्नी, बतायी हत्या की हैरान करने वाली वजह

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गोरखपुर. इससे ज्यादा अमानवीय और दिल दहला देने वाली घटना क्या हो सकती है कि एक मां अपने ही दूधमुहे बच्चे को बेरहमी से तड़पा-तड़पाकर उसकी हत्या कर दे। ऐसी दर्दनाक घटना का खुलासा हुआ है यूपी के गोरखपुर में, यहां चार दिन पहले रहस्यमय ढंग से गायब डेढ़ साल के मासूम का शव पानी की टंकी से मिला था। मामले में जब पुलिस ने जांच पड़ताल की तो ये हैरान कर देने वाला खुलासा सामने आया। मां ने ही बच्चे को पानी की टंकी में डालकर उपर से ढक्कन बंद कर दिया था। अपना जुर्म कबूलकर ते हुए उसने कहा कि वह अपनी परेशानी खत्म करने के साथ-साथ अपनी बहनों को इस हत्या के जुर्म में फंसाना चाहती थी।


घटना का खुलासा होते ही पूरा परिवार सकते में है। पति जो बेटे की हत्या के पीछे अपनी पत्नी की दो बड़ी बहनों और ससुर का हाथ समझ रहा था वह इस बात से हैरान और सदमे में है कि उसकी पत्नी ने ऐसा किया। उसकी बेटी का अपने भाई की जुदाई में रो रोकर बुरा हाल है। उधर बहनें भी आरोपी मां मनोरमा के इस कृत्य से दुखी हैं। उनका कहना है कि कोई मां ऐसा कैसे कर सकती है। उसकी इस हरकत से पूरा परिवार दुखी है।


ये थी पूरी घटना

गोरखपुर के बेलीपार के भीटी गांव में मनोरमा अपनी सात साल की बेटी और डेढ़ साल के बेटे के साथ मायके आई थी। बीते मंगलवार की रात उसका दूधमुहा बच्चा अनिकेत गायब हो गया। जानकारी होने पर पिता धर्मेंद्र सिंह ने पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने पानी की टंकी से बच्चे का शव बरामद किया। इसके बाद धर्मेंद्र की शिकायत पर ससुर और पत्नी की दो बड़ी बहनों को हिरासत में ले लिया था। हालांकि इसके बावजूद पुलिस मामले की तह तक नहीं पहुंच पा रही थी। फिर पुलिस ने मनोरमा को भी हिरासत में ले लिया और इसके बाद जो खुलासा हुआ उससे पुलिस भी हैरान थी।


मां बोली, बेटा चंचल था बहुत परेशान करता था

पूछताछ के बाद जब पूरे मामले का खुलासा हुआ तो पुलिस भी हैरान थी। मां मनोरमा का कहना था कि उसका बेटा उसे बहुत चंचल था और उसे बहुत परेशान करता था। उससे छुटकारा पाने और अपनी बड़ी बहनों को फंसाने के लिये उसने बच्चे को पानी की टंकी में डालकर उसकी जान ले ली। उसने कहा कि उसकी बड़ी बहनें उसे अपमानित करती रहती थीं। बेटा भी उसे परेशान करता था। इसलिये अपनी परेशानी खत्म करने के साथ ही बड़ी बहनों को फंसाने के लिये बेटे की जान ले ली।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned