scriptNow trains for Bihar and Varanasi will meet from Cantt station | अब बिहार व वाराणसी के लिए कैंट स्टेशन से मिलेंगी ट्रेनें,सेटेलाइट स्टेशन के रुप में होगा विकसित | Patrika News

अब बिहार व वाराणसी के लिए कैंट स्टेशन से मिलेंगी ट्रेनें,सेटेलाइट स्टेशन के रुप में होगा विकसित

यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है। अब बिहार व वाराणसी के यात्रियों को गोरखपुर कैंट स्टेशन से ही ट्रेनें मिल जाएंगी।इस स्टेशन को सेटेलाइट स्टेशन के रुप में विकसित किया जाएगा। साथ ही इसके आस-पास जाम की समस्या को समाप्त करने के लिए रेलवे ने अंडर पास बनाने का निर्णय लिया है।

गोरखपुर

Updated: May 02, 2022 10:15:40 am

यात्रियों को कैँट स्टेशन से ट्रेन पकड़ने के लिए अब घंटो जाम का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। रेलवे ने कैंट स्टेशन क्रासिंग पर अंडरपास बनाने का फैसला किया है। इसके साथ ही कैँट स्टेशन को सेटेलाइट स्टेशन के रुप में विकसित किया जाएगा जिससे बिहार व वाराणसी के लिए यही से ट्रेनें मिल सकें।लखनऊ मंडल के इंजीनियर क्रासिंग पर रोड अंडर ब्रिज (आरयूबी या अंडरपास) के निर्माण की संभावनाओं की तलाश में जुट गए हैं।
train_logo.jpg
रेलवे के इंजीनियर क्रासिंग से होकर आवागमन करने वाले लोगों और क्रासिंग से आने वाली कठिनाइयों की समीक्षा शुरू कर दी है। अंडरपास बनने में आने वाली मुश्किलों और मिलने वाली सुविधाओं का भी आंकलन कर रहे हैं। दरअसल, कैंट स्टेशन सेटेलाइट के रूप में विकसित हो रहा है। पांच रेल लाइनें तैयार हो रही हैं। नए प्लेटफार्म, भवन, विश्रामालय और फुट ओवरब्रिज बन रहे हैं।
सेटेलाइट स्टेशन के रूप में विकसित होने के बाद कैंट से ही नरकटियागंज, छपरा और वाराणसी रूट की इंटरसिटी और पैसेंजर सवारी गाड़ियां संचालित होने लगेंगी। गोरखपुर जंक्शन का लोड कम हो जाएगा। इन सारी व्यवस्थाओं और सुविधाओं के बाद भी कैंट स्टेशन तक आवागमन के लिए सुविधाजनक रास्ता नहीं बन पाया। स्टेशन यार्ड होकर एम्स होकर नंदानगर जाने वाली सड़क है, लेकिन क्रासिंग लोगों की राह में रोड़ा बनी हुई है। ट्रेनों के लगातार आवागमन के चलते क्रासिंग अक्सर बंद रहती है। यात्री स्टेशन पहुंचकर भी ट्रेन नहीं पकड़ पाते हैं। आमजन परेशान रहते हैं।
पूर्वोत्तर रेलवे के सीपीआरओ पंकज कुमार सिंह ने बताया कि रेलवे प्रशासन सड़क उपयोगकर्ता की सुविधाओं को लेकर भी संवेदनशील है। रोड ओवर ब्रिज और रोड अंडर ब्रिज बना कर समपार फाटकों को समाप्त किया जा रहा है। इसी क्रम में गोरखपुर कैंट स्थित समपार के स्थान पर रोड अंडर ब्रिज बनाने के लिए फीजिबिलिटी जांच की जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

अब तक 11 देशों में मंकीपॉक्स : 21 मई को WHO की इमरजेंसी मीटिंग, भारत में अलर्ट, अफ्रीकी वैज्ञानिक हैरानभीषण सडक़ हादसा: पूर्व सांसद के भतीजे समेत 4 की मौत, गैसकटर से काटकर निकाले गए शवWeather Update: दिल्ली सहित इन राज्यों में बदला मौसम ​का मिजाज, आंधी-बारिश की संभावनाMP में ओबीसी आरक्षण: जिला पंचायत 30, जनपद 20 और सरपंचों को 26 फीसदी आरक्षणपटियाला जेल में बंद Navjot Singh Sidhu ने पहली रात नहीं खाया जेल का खाना, नहीं मिला कोई VIP ट्रीटमेंटRajiv Gandhi Death Anniversary: भावुक हुए राहुल गांधी, पिता को याद कर कही दिल की बातभारतीय की शान Veer Mahaan का एक फिर खौला खून, कहा- पूरे WWE लॉकर रूम का बुरा हाल करूंगाInflation Around the World: महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.