ऑक्सफोर्ड की कोरोना वक्क्सीन का ट्रायल गोरखपुर मेडिकल काॅलेज में होगा

आईसीएमआर ने ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन के ट्रायल के लिये गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल काॅलेज को इजाजत दे दी है। भारत बायोटेक और जायडस कैडिला के बाद यह तीसरी कोरोनो वैक्सीन होगी जिसका ट्रायल गोरखपुर में होगा।

गोरखपुर. भारत बायोटेक और जायडस कैडिला के बाद अब ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन का ट्रायल भी गोरखपुर में किया जाएगा। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने गोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल काॅलेज (बीआरडी मेडिकल काॅलेज) को इसके ट्रायल की इजाजत दे दी है। आईसीएमआर के डयरेक्टर डाॅ. रजनीकांत ने मीडिया को दिये अपने बयान में कहा है कि ट्रायल को मंजूरी मिल गई है और एक पखवारे के अंदर ट्रायल शुरू होने की उम्मीद है।

 

ऑक्सफोर्ड वैक्सीन का ट्रायल करा रही सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया बीआरडी में ट्रायल के लिये वैक्सीन उपलब्ध कराएगी, लेकिन इसके पहले वहां ट्रायल के लिये पूरी व्यवस्था और मानकों की जांच की जाएगी। डाॅ. रजनीकांत के मुताबिक वैक्सीन के ट्यल के लिये लैब व टीम तैयार है। अब सीरम इंडिया की ओर से ट्रायल को लेकर प्रोटोकाॅल मिलते ही ट्रायल शुरू कर दिया जाएगा। बताते चलें कि यह ट्रायल देश के कई मेडिकल काॅलेजों में किया जाएगा।

 

इसके पहले देश की भारत बायोटेक कंपनी द्वारा बनाई गई कोरोना वैक्सीन का देश भर के जिन 12 सेंटरों पर ट्रायल किया जा रहा है उनमें से एक गोरखपुर का राणा हाॅस्पिटल भी है। इसी हाॅस्पिटल को हाल ही में जायडस कैडिला की कोरोना वैक्सीन के ट्रायल की भी अनुमति मिली है। आईएमआरसी के मीडिया प्रभारी डाॅ. अशोक कुमार पाण्डेय ने मीडिया को दिये बयान में ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन को बेहद खास बताते हुए कहा है कि इसके पहले चरण के ट्रायल पूरे किये जा चुके हैं, जिसमें बेहतर इम्यूर रिस्पांस मिले हैं। साइड इफेक्ट भी कम रहे। उम्मीद है कि यहां भी इसके परिणाम बेहतर आएंगे।

Coronavirus Pandemic
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned