scriptramdar mishra awarded by sarswati samman | कवि रामदरश मिश्र को मिला सरस्वती सम्मान | Patrika News

कवि रामदरश मिश्र को मिला सरस्वती सम्मान

गोरखपुर के प्रसिद्ध साहित्यकार रामदरश मिश्र को साहित्य के क्षेत्र का वर्ष 2021 का बहुचर्चित 'सरस्वती' सम्मान दिया गया। यह सम्मान केके बिड़ला फाउंडेशन द्वारा दिया जाता है। यह सम्मान कवि और लेखक रामदरश मिश्र को उनकी काव्यकृति 'मैं तो यहां हूं के लिए दिया गया।

गोरखपुर

Published: June 28, 2022 09:32:06 am

सोमवार को नई दिल्ली स्थित साहित्य अकादमी रवींद्र भवन के सभागार में पूर्व अध्यक्ष साहित्य अकादमी प्रो. विश्वनाथ प्रसाद तिवारी ने गोरखपुर के ही मूल निवासी प्रो. रामदरश मिश्र को अपने हाथों से सरस्वती सम्मान प्रदान किया। इस सम्मान से गोरखपुरवासियों में उत्साह व उमंग है। सम्मान समारोह में बतौर मुख्य अतिथि दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय में हिन्दी विभाग के पूर्व अध्यक्ष, साहित्य अकादमी के पूर्व अध्यक्ष एवं दस्तावेज पत्रिका के संपादक प्रो. विश्वनाथ तिवारी मौजूद रहे। कार्यक्रम के दौरान बिड़ला फाउंडेशन के डायरेक्टर सुरेश रितुपर्ण तथा युवा आलोचक ओम निश्चल भी उपस्थित थे। युवा आलोचक ओम निश्चल ने प्रो. रामदरश मिश्र की रचानाओं पर अपनी आलोचना रखी।
ramdarash_mishra_7.jpg
इस बार सरस्तवी सम्मान समारोह का आयोजन काफी आकर्षक रहा। प्राय: सरस्वती सम्मान राजनीति से जुड़े व्यक्तियों के हाथों से दिलवाया जाता रहा है। इस बार यह पुरस्कार साहित्य अकादमी के पूर्व अध्यक्ष प्रो. विश्वनाथ प्रसाद तिवारी के हाथों दिलवाया गया। यह सुखद संयोग ही रहा है कि प्रो. विश्वनाथ प्रसाद तिवारी और प्रो. रामदरश मिश्र दोनों गोरखपुर के हैं। प्रो. विश्वनाथ प्रसाद तिवारी ने कहा कि यह सम्मान मूलत: गोरखपुर में जन्मे प्रो. रामदरश मिश्र को दिया गया है। यह गोरखपुर के निवासियों के लिए खुशी की बात है। प्रो. रामदरश मिश्र की अधिकतर रचनाएं गोरखपुर के परिवेश पर ही केंद्रित हैं। वह गोरखपुर के बाहर चाहे जहां भी रहे यह परिवेश उनकी रचनाओं में जीवित एवं सुरक्षित है।
लेखक एवं रचनाकार रामदरश मिश्र की जीवन यात्रा गोरखपुर जिले के डुमरी गांव (14 अगस्त 1924) से शुरू हुई। उनकी कविता यात्रा की शुरुआत 'पथ के गीत' संग्रह से हुई। इस तरह गांव-जवार के अनुभवों के ताने बाने से समृद्ध होते हुए रामदरश मिश्र पढ़ने के लिए बनारस पहुंचे जहां एक तरफ गीतों की आबोहवा थी तो दूसरी तरफ नई कविता की बयार बह रही थी। उन्होंने दोनों विधाओं में सृजन किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Jammu Kashmir: बाहरी लोगों को वोट के अधिकार देने पर भड़के कश्मीरी नेता, मुफ्ती और उमर ने केंद्र पर साधा निशानाशुभेंदु अधिकारी का दावा, दिसंबर तक टूट जाएगी TMC, बंगाल में दोहराया जाएगा महाराष्ट्र!Karnataka: BJP में दरार, MLA बसनगौड़ा यतनाल ने कहा- मैं सीएम बना तो पार्टी जीतेगी 150 सीटेंगैंगरेप व परिजनों के हत्यारों की रिहाई पर बोलीं बिलकिस बानो- गुजरात सरकार के इस फैसले ने न्याय के भरोसे को तोड़ाRoad Accident: हिमाचल की यात्रा पर गया था भीलवाड़ा का परिवार, खड़े ट्रक में कार घुसने से दम्पती समेत चार की मौतराहुल गांधी ने उन्नाव-कठुआ जैसी घटनाओं के बहाने मोदी सरकार को घेरा, पूछा- ऐसी राजनीति से शर्मिंदगी नहीं होती?बिहारः जदयू विधायक बीमा भारती के आरोपों पर बोले नीतीश कुमार- हर किसी को मंत्री नहीं बनाया जा सकताबीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन पर दर्ज होगा रेप का केस, दिल्ली हाईकोर्ट ने दिया आदेश, जानिए क्या है पूरा मामला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.