देश की दशा व दिशा तय करता है शिक्षक: प्रो.राजेंद्र प्रसाद

Dheerendra Vikramdittya

Publish: Sep, 17 2017 10:48:28 (IST)

Gorakhpur, Uttar Pradesh, India
देश की दशा व दिशा तय करता है शिक्षक: प्रो.राजेंद्र प्रसाद

डीडीयू में सेवानिवृत्त शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन

गोरखपुर.  देश को दशा व दिशा देने का काम शिक्षक ही करता है। अध्यापक कभी भी अवकाश प्राप्त नहीं होता। अध्यापक पर समाज के निर्माण की जिम्मेदारी होती।
ये बातें इलाहाबाद राज्य विवि के कुलपति प्रो.राजेंद्र प्रसाद यादव ने कही। वह दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विवि में आयोजित अवकाश प्राप्त शिक्षकों के सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अध्यापक केवल किसी छात्र का व्यक्तित्व व भविष्य का निर्माण नहीं करता बल्कि एक बेहतर समाज की उससे नींव भी रखता है।एक अध्यापक अपने जीवन में सदैव ज्ञान का संचय , संचार एवं विस्तार करता रहता है।
अवकाश प्राप्त शिक्षकों में से विज्ञान संकाय के पूर्व अधिष्ठाता प्रो हरिशंकर शुक्ल ने शिक्षण कार्य को जीवन यापन के लिए अंगीकार किये जाने वाली सभी वृत्तियों में सर्वश्रेष्ठ बताया। इलाहाबाद बैक के उप-महाप्रबंधक आनंद कृष्ण ने इस सम्मान समारोह में बैंक की ओर से किये जाने वाली सहभागिता को अपना तथा बैंक के लिए सम्मान एवं गौरव की बात बताया। अध्यक्षीय उद्बोधन में कुलपति प्रो. विजय कृष्ण सिंह एक शिक्षक को ब्रह्मा, विष्णु और महेश तीनों का समन्वित कृति बताते हुए उन्होंने गुरु की महिमा एवं योगदान पर अनेक महापुरुषों के कथनों को उद्धृत किया।

इनका हुआ सम्मान

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय शिक्षक संघ द्वारा इस सम्मान समारोह का आयोजन किया गया था। पिछले शैक्षिक सत्र 2016-17 में अवकाश प्राप्त शिक्षकों के सम्मान में आयेजित कार्यक्रम में अवकाश प्राप्त शिक्षक रक्षा एवं स्त्रातजिक अध्ययन विभाग के पूर्व अध्यक्ष, पूर्व संकायाध्यक्ष एवं सम्प्रति इलाहाबाद राज्य विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो राजेन्द्र प्रसाद, गणित विभाग के प्रो हरिशंकर शुक्ल एवं प्रो जे. पी. विश्वकर्मा , भौतिकी विभाग के प्रो मिहिर रायचौधरी , मनोविज्ञान विभाग के प्रो प्रेम सागर नाथ तिवारी, ललित कला एवं संगीत विभाग के डॉ.भारत भूषण, वाणिज्य विभाग के प्रो एम. सी. गुप्त तथा विधि विभाग के प्रो जितेन्द्र कुमार तिवारी, अरविन्द कुमार मिश्र एवं प्रो राजकिशोर पाठक सहित कुल 10 अवकाश प्राप्त शिक्षकों को सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम का शुभारम्भ मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन से हुआ। साथ ही भारत रत्न दार्शनिक एवं विचारक प्रख्यात शिक्षक डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन एवं एकात्म मानवाद के प्रणेता पं दीनदयाल उपाध्याय के चित्रों पर समवेत रूप से माल्यार्पण एवं पुष्पार्जन किया गया। इसके बाद शिक्षक संघ के अध्यक्ष प्रो. विनोद कुमार सिंह ने विशिष्ट अतिथियों एवं सभागार में उपस्थित सभी जनों का स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन शिक्षक संघ के महामंत्री प्रो.उमेश यादव वे किया एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ.ध्यानेन्द्र नारायण दुबे ने किया।
इस अवसर पर सभी संकायों के संकायाध्यक्ष , लगभग सभी विभागों के विभागाध्यक्ष , शिक्षक, कर्मचारी गण एवं अन्य उपस्थित रहे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned