प्रदेश में बढ़ते अपराधों और बेतहाशा बिजली कटौती पर योगी सरकार पर सपा ने बोला हमला

प्रदेश में बढ़ते अपराधों और बेतहाशा बिजली कटौती पर योगी सरकार पर सपा ने बोला हमला

Dheerendra Vikramadittya | Publish: Jun, 24 2019 01:10:37 PM (IST) Gorakhpur, Gorakhpur, Uttar Pradesh, India


सपा ने निकाय उप चुनावों के लिए बनाई रणनीति

नगर निकाय व ग्राम पंचायतों-क्षेत्र पंचायतों की रिक्त पदों पर होने वाले उपचुनाव में समाजवादी पार्टी अकेले दम पर चुनाव मैदान में होगी। सपा अपने समर्थित उम्मीदवारों को जीताने के लिए चुनावी तैयारियां तेज कर दी है। जनहित के मुद्दों पर सरकार के खिलाफ हल्ला बोलने के साथ पार्टी चुनाव में विभिन्न मुद्दों पर सरकार को घेरेगी।

यह पढ़ें- मुन्ना बजरंगी केस में बर्खास्त जेलर पहले से रहे हैं विवादित, जेल में ही दुकान खोलकर बिकवाते थे ये सामान

सपा गोरखपुर इकाई ने बैठक कर चुनावी व आंदोलन की रणनीति पर चर्चा की। अध्यक्षता करते हुए जिलाध्यक्ष प्रहलाद यादव ने कहा कि जहां पर भी किसी पद पर पार्टी के कार्यकर्ता चुनाव लडे तो सभी साथी एकजुट होकर जिताने का कार्य किया जाएगा। सपा कार्यकर्ता हर हाल में चुनाव जीते यह सुनिश्चित करना पार्टी के पदाधिकारियों व वरिश्ठ नेताओं का कार्य है।
उन्होंने प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश व जिले में अपराधों की बाढ़ के बावजूद राज्य की भाजपा सरकार के कानों पर जूं नहीं रेंग रही है। अपराधियों पर सख्ती सिर्फ सरकारी बयानों में ही दिखती है। न तो हत्या की घटनाएं कम हो रही हैं और नहीं लूट तथा बलात्कार के मामलों पर रोक लगी है। महिलाएं तो असुरक्षित हैं ही अब बच्चियों के साथ भी जघन्य दुष्कर्म की घटनाएं करीब-करीब रोज ही घट रही है।

यह पढ़ें- 15 साल की भांजी को 55 साल के बुड्ढे़ के हवाले कर दिया, डेढ़ लाख में कर दिया रिश्तों का सौदा

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार का अपराधियों, गुंडों और बलात्कारियों पे कोई डर नहीं रहा जिसका नतीजा है कि लगातार बढ़ रही हत्याओं और रेप की घटनाएं हो रही है। बेटियों के साथ दुराचार के बाद उसकी निर्मम हत्या कर दी जाती है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा बिजली की दरें 25 प्रतिशत बढ़ाने का जो प्रस्ताव है वह न केवल जनविरोधी है बल्कि सरकार की संवेदनहीनता का भी उदाहरण है। सरकार को यह प्रस्ताव तत्काल वापस लेना चाहिए। बिजली के दाम बढ़ाना बीपीएल परिवारोें और मध्यवर्ग के साथ अन्याय है। इस सरकार में जहां एक ओर बिजली की आपूर्ति लगातार बाधित हो रही है वहीं दूसरी तरफ बिजली दरों में प्रस्तावित वृृद्धि जनता पर दोहरी मार है।

यह पढ़ें- होटल के 29 कमरों में आपत्तिजनक हालत में मिले युवक-युवतियां, पुलिस पहुंची तो मच गया भगदड़

बैठक में जियाउल इस्लाम, जवाहरलाल मौर्य, मिर्जा कदीर बेग, अशोक यादव, रामजतन यादव, रामनाथ यादव, पंकज शाही, दयानंद विद्रोही, श्यामदेव निषाद, राघवेंद्र तिवारी राजू, मैना भाई, सोमनाथ यादव, गिरधारी सिंह सैंथवार, योगेंद्र यादव, धर्मराज शर्मा, बंसी यादव, रामबचन यादव, बृजनंदन यादव, चंद्रमणि यादव, दयाशंकर यादव, श्रीराम यादव, खरभान यादव, जयप्रकाश यादव, नंदलाल कनौजिया, छोटेलाल राजभर, राममिलन पहलवान, मनमोहन यादव, देवेंद्र भूषण निषाद आदि मौजूद रहे।

यह पढ़ें- यूपी के इस जिले में फिर एक बच्ची के साथ रेप, हालत गंभीर

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned