गोरखपुर का टेराकोटा अब बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज व नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होगा

गोरखपुर का टेराकोटा अब बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज व नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होगा

Dheerendra Vikramadittya | Publish: Jan, 15 2019 02:02:02 AM (IST) Gorakhpur, Gorakhpur, Uttar Pradesh, India


एक जिला एक प्रोडक्ट योजना व रोजगार मेले का उद्धघाटन

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवाओं को भरोसा दिलाया है कि नौकरियों में बिना भेदभाव भर्ती प्रक्रिया सुनिश्चित कराई जाएगी। नौकरी में अब न भाई-भतीजावाद चलेगा न ही किसी जाति विशेष को तरजीह दी जाएगी। ऐसा अगर पाया गया तो उन लोगों के खिलाफ रासुका तामील कराएंगे।
मुख्यमंत्री सोमवार को गोरक्षनगरी में आयोजित एक जिला एक उत्पाद कार्यक्रम में मौजूद थे। गोरखपुर विश्वविद्यालय में आयोजित इस कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि नौकरियों पर डाका डालने वालों की संपत्तियों को जब्त करते हुए उसे गरीबों में बांट देंगे। उन्होंने समाजवादी सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि पिछली सरकार ने दबंगों को मिट्टी खनन का ठेका दे रखा था। इस वजह से औरंगाबाद व अन्य जगहों पर मिट्टी के हस्तशिल्प काम नहीं कर पा रहे थे। हम प्रजापति समाज को मुफ्त में मिट्टी दे रहे। अब यह समाज भी अपने उत्पाद के माध्यम से विश्व पटल पर चमकेगा। उन्होंने कहा कि जल्द ही टेराकोटा बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज व नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर चमकेगा। परंपरागत शिल्प को प्रोत्साहित करने के लिए जल्द हो विश्वकर्मा शिल्प श्रम सम्मान को लागू किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि गांव देहात अब ऐसे उद्योगों से तरक्की कर रहे।
विभागीय मंत्री सत्यदेव पचौरी ने कहा कि सरकार परंपरागत उद्योगों को फलने फूलने का मौका दे रही। विरोधियों के आंखों पर पट्टी बंधी हुई है। उनको ये सब दिख नहीं रहा।
कार्यक्रम के दौरान टेराकोटा शिल्पी शिखा शर्मा व आजमगढ़ की ब्लैक पॉटरी के सोहित प्रजापति ने अपने अनुभव साझा किए।
कार्यक्रम के दौरान गोरखपुर के टेराकोटा, बुलंदशहर के सिरेमिक, आजमगढ़ में ब्लैक पॉटरी उद्योग, कौशाम्बी में खाद्य प्रसंस्करण के अंतर्गत केला, प्रतापगढ़ में आंवला, अयोध्या व मुज़फ्फरनगर में गुड़, औरैया में घी, बलरामपुर गोंडा में दाल, सिद्धार्थनगर में काला नमक चावल, हाथरस के हींग के उद्योग के लिए ऋण भी दिए गए। यहां के 20427 उद्यमियों को 2188 करोड़ का ऋण स्वीकृत कराया गया है। मुख्यमंत्री ने मौके पर 15 हस्तशिल्पियों को 349.50 लाख के ऋण का चेक दिया। 38 शिल्पियों को 10 इलेक्ट्रिक चाक व टूलकिट दिया गया।
इस दौरान सभी क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के अतिरिक्त आयुक्त व निदेशक उद्योग के.रविन्द्र नायक व सचिव भुवनेश कुमार भी मौजूद रहे।

रोजगार मेले का भी उद्धघाटन किया

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विवि परिसर में ही आयोजित रोजगार मेले का भी उद्धघाटन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सरकार बदलते ही स्थितियां भी बदल गई हैं। पहले युवा रोजगार के लिए भटकते थे लेकिन अब नौकरियां उनके पास आ रही है। कंपनियां घर जाकर रोजगार दे रही।

बता दे रोजगार मेले में 70 कंपनियां करीब छह हजार युवाओं का चयन करने पहुंची हैं।

 

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned