शिवपाल के मोर्चे में केवल सपा ही नहीं बीजेपी, बसपा के भी ये दिग्गज जुड़ेंगे

शिवपाल के मोर्चे में केवल सपा ही नहीं बीजेपी, बसपा के भी ये दिग्गज जुड़ेंगे

Dheerendra Vikramadittya | Updated: 31 Aug 2018, 03:18:41 PM (IST) Gorakhpur, Uttar Pradesh, India


दूसरे दलों के कई माननीय संपर्क में हैं शिवपाल यादव के

समाजवादी पार्टी के सबसे पुराने संगठनकर्ता शिवपाल सिंह यादव के नए मोर्चे में केवल समाजवादी पार्टी के ही नहीं बल्कि बीजेपी व अन्य दलों के भी कई दिग्गज शामिल हो सकते हैं। सपा में काफी दिनों से उपेक्षित रहने के बाद अन्य दलों की सदस्यता ग्रहण करने वाले ये दिग्गज सिर्फ शिवपाल यादव की राह देख रहे थे। गोरखपुर-बस्ती मंडल के करीब एक दर्जन बड़े चेहरे ऐसे हैं जो शिवपाल यादव के साथ उनके नए मोर्चे या पाटी में जा सकते हैं।
दरअसल, समाजवादी राजनीति में पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ज्यों-ज्यों शिखर पर पहुंचते गए, उसी के साथ उनके साथ हर वक्त सहयोगी की भूमिका निभाने वाले अनुज शिवपाल यादव की भी संगठन में पकड़ मजबूत होती गई। आलम यह रहा कि मुलायम सिंह यादव केबाद समाजवादी कैडर से शिवपाल यादव का जुड़ाव बढ़ता गया। छोटे से बड़े नेता के साथ मिलना, उसके सुख-दुख में शामिल होते होते शिवपाल यादव ने भी यूपी में काफी अपने लोग बनाए। ये लोग मुलायम सिंह यादव के खास तो रहे ही साथ ही शिवपाल से भी जुड़ाव रहा।

समाजवादी पार्टी से उपेक्षित एक नेता बताते हैं कि सपा को खड़ा करने के दौरान मुलायम सिंह यादव के निर्देश पर वह अपने कार्यकर्ताओं के लिए किसी भी स्तर पर जाकर मदद करते रहे हैं। सपा कार्यकर्ताओं की जोरदार तरीके से सिफारिश करने की बात हो या उनको आर्थिक रूप से मजबूत करने में शिवपाल यादव ने कभी कोताही नहीं की। बीते समाजवादी सरकार में हुए पंचायत चुनाव में संगठन के लोगों को पदों पर आसीन कराने के लिए बताया जाता है सबसे अधिक जोर शिवपाल यादव ने लगाया था। यही नहीं पार्टी के लिए काम करने वाले तमाम पुराने समाजवादियों को मजबूती के साथ पैरवी कर एमएलसी तक बनवाया। हालांकि, सरकार जब जब सपा की रही है, इस दौरान उन पर कई तरह के आरोप भी लगे।
गोरखपुर के एक पुराने समाजवादी बताते हैं कि पिछले कुछ सालों से समाजवादी पार्टी में शिवपाल यादव ही नहीं उनके लोग भी नेपथ्य में थे। कईयों ने समाजवादी परिवार में झगड़े से खुद को अलग करते हुए दूसरे दलों में अपना ठौर खोज लिया। गोरखपुर-बस्ती मंडल में एक दर्जन से अधिक पूर्व विधायक, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष, पूर्व सांसद सहित विभिन्न पदों पर विराजमान रहे दिग्गज समाजवादी अब भाजपा, बसपा और अन्य छोटे दलों में अपने अस्तित्व को बचाए हुए हैं।
अब चूंकि, सपा से अलग होकर शिवपाल यादव ने एक नए मोर्चे का गठन कर लिया है ऐसे में इन लोगों की वापसी संभावित है। माना जा रहा है कि शिवपाल यादव के करीबी माने जाने वाले ये सभी दिग्गज अब वापस आकर जनता के बीच जाएंगे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned