scriptangry relatives jammed after the death of the woman | झोलाछाप डॉक्टर की इंजेक्शन से महिला की मौत के बाद गुस्साए परिजनों ने लगाया जाम, एंबुलेंस भी फंसी | Patrika News

झोलाछाप डॉक्टर की इंजेक्शन से महिला की मौत के बाद गुस्साए परिजनों ने लगाया जाम, एंबुलेंस भी फंसी

जेवर में एक झोलाछाप चिकित्सक के गलत इलाज के चलते एक महिला की मौत के बाद गुस्साए परिजनों ने मुख्य चौराहे पर जाम लगा दिया। इससे खुर्जा रोड की तरफ से आ रही एक एंबुलेंस भी फंस गई। पुलिस अधिकारियों के मांग मानने के आश्वासन के बाद करीब तीन घंटे के बाद जाम खोला गया। जिसके बाद वाहन सवारों को राहत मिली।

ग्रेटर नोएडा

Published: April 07, 2022 12:31:17 pm

ग्रेटर नोएडा के जेवर में झोलाछाप चिकित्सक के इंजेक्शन लगाने से एक महिला की मौत के बाद गुस्साए परिजनों ने जमकर हंगामा किया है। महिला के परिजनों ने बुधवार को जेवर का मुख्य चौराहा जाम कर दिया। इससे खुर्जा रोड की तरफ से आ रही एक एंबुलेंस फंस गई। गुस्साए परिजनों ने इस मामले में धाराओं में फेरबदल करने का आरोप लगा आरोपियों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट लगाने की मांग की। पुलिस अधिकारियों ने पीड़ित परिजनों को थाने बुलाकर धाराएं बढ़ाने का आश्वासन दिया, तब कही जाकर लोग शांत हुए और करीब तीन घंटे के बाद जाम खोला गया। जिसके बाद वाहन सवारों को राहत मिली।
angry-relatives-jammed-after-the-death-of-the-woman.jpg
दरअसल, जेवर कस्बे में रहने वाली 29 साल की राखी उर्फ रेनू की 31 मार्च को तबीयत खराब होने पर परिजन इलाज के लिए जेवर के डॉक्टर राजेंद्र के क्लीनिक लेकर गए थे। जहां पर डॉ. राजेंद्र और उसके कंपाउंडर ने महिला को इंजेक्शन लगाया, जिसकी वजह से उसकी तबीयत बिगड़ती चली गई। फिर इलाज के लिए उसे कैलाश अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतका के भाई जितेंद्र कुमार ने मुख्य आरोपी झोलाछाप चिकित्सक पलवल हरियाणा निवासी राजेंद्र समेत सात लोगों के खिलाफ जबरन इंजेक्शन लगाने का आरोप लगाते हुए जेवर कोतवाली में केस दर्ज कराया था।
यह भी पढ़ें- गाजियाबाद की गोल्फ लिंक सोसाइटी में प्रदूषित पानी पीने से 38 बच्चों समेत 59 लोग बीमार

पुलिस चौकी की सामने डाल दिया गंदगी का ढेर

रेनू की मौत को लेकर मृतका के परिजनों और समाज के लोगों में झोलाछाप चिकित्सक और उसके सहयोगियों के खिलाफ भारी आक्रोश था। इसके चलते कोतवाली प्रभारी के नेतृत्व में पुलिस टीम गठित की गई थी। पुलिस टीम ने मंगलवार को झोलाछाप चिकित्सक राजेंद्र और कंपाउंडर कैलाश को जेवर खुर्जा अंडरपास के समीप से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। लेकिन, मृतका के परिजनों ने बुधवार सुबह 11 बजे जेवर कोतवाली पुलिस पर धाराओं में बदलाव करने का आरोप लगाते हुए जेवर चौराहे पर खुर्जा-झाझर टप्पल मार्ग को जाम कर दिया। जेवर पुलिस चौकी के सामने ट्रैक्टर-ट्राली में भरकर गंदगी के ढेर डाल दिए। इससे पुलिस में हड़कंप मच गया और जेवर सर्किल के अलावा भारी पुलिस बल वह पीएसी के जवान मौके पर पहुंच गए।
यह भी पढ़ें- गाजियाबाद में गरजा बाबा का बुलडोजर, प्रदूषण फैलाने वाली 8 अवैध फैक्ट्रियां ध्वस्त

एसीपी रुद्र सिंह को सौंपी मामले की जांच

एडीसीपी ग्रेटर नोएडा और कोतवाली प्रभारी ने मृतका के परिजनों से वार्ता कर थाने बुलाकर जाम को खुलवाया, तब जाकर पुलिस प्रशासन ने राहत की सांस ली। इस मामले में एडीसीपी ग्रेटर नोएडा का कहना है कि मृतका के परिजनों को आश्वस्त किया गया है कि आरोपियों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट की धारा बढ़ाई जाएगी, जिसकी जांच एसीपी रुद्र कुमार सिंह करेंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीकुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर निकाला गुस्साRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्डIPL 2022 के समापन समारोह में Ranveer Singh और AR Rahman बिखेरेंगे जलवा, जानिए क्या कुछ खास होगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.