डाॅक्टर्स आैर आॅप्टीमेट्रिस्ट ने नर्स से कही थी ये गंदी बात, आहत होकर उठा लिया खाैफनाक कदम

डाॅक्टर्स आैर आॅप्टीमेट्रिस्ट ने नर्स से कही थी ये गंदी बात, आहत होकर उठा लिया खाैफनाक कदम

Nitin Sharma | Publish: Aug, 12 2018 05:57:31 PM (IST) Greater Noida, Uttar Pradesh, India

पिता ने पुलिस को दी शिकायत मामले की जांच हुर्इ शुरू

ग्रेटर नोएडा।राष्ट्रीय बाल सुरक्षा कार्यक्रम में डाॅक्टर्स आॅप्टीमेट्रिस्ट की टीम के साथ स्कूलों में बच्चों की जांच के पहुंची स्टाफ नर्स के साथ डाॅक्टर्स ने एेसी हरकत की।जिससे आहत होकर नर्स ने आत्महत्या का प्रयास किया।हालांकि मौके पर पहुंचे नर्स के परिजनों ने उसे बचा लिया।साथ ही इसकी जानकारी पुलिस को दी। वहीं पीड़ित नर्स ने बताया कि सीएचसी पर तैनात डाॅक्टर्स आैर आॅप्टीमेट्रिस्ट ने उससे बारे गंदी बातें कहीं थे।जिसके चलते उसने यह कदम उठा लिया।

वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें-आचार्य बालकृष्ण के नाम पर फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर उनकी छवि धूमिल करने वाला गिरफ़्तार

डाॅक्टर्स की टीम के साथ जांच में पहुंची थी स्टाफ नर्स

युवती लड़की बुलंदशहर की रहने वाली है।उसके पिता सीबीआई में तैनात है।वहीं युवती दादरी स्थित एक सीएचसी पर स्टाफ नर्स के पद पर तैनात है।जानकारी के अनुसार कुछ दिन पहले ही स्टाफ नर्स युवती राष्ट्रीय बाल सुरक्षा कार्यक्रम के तहत डॉक्टरों के साथ ब्लॉक के विभिन्न स्कूलों में बच्चों के स्वास्थ्य की जांच करने गर्इ थी।आरोप है कि कार्यक्रम से जुड़े डॉक्टर व अन्य कर्मचारी बगैर कहीं गए कागजों में ही काम पूरा कर देते थे।यह बात नर्स को पसंद नहीं आर्इ। इस पर उसने इसकी जानकारी अधिकारियों को दे दी।इससे नाराज डाॅक्टर्स आैर ऑप्टोमेट्रिस्ट ने नर्स के चरित्र को लेकर टिप्पणी की।

यह भी पढ़ें-सीएम योगी ने लाखों फ्लैट मालिकों को दी राहत, अब बिल्डर नहीं वसूल सकेंगे रुपये

इससे आहत होकर नर्स ने उठा लिया ये कदम

डाॅक्टर्स आैर टीम के आॅप्टोमट्रिस्ट द्वारा उसके चरित्र पर गंदी टिप्पणियां करने बात पूरी सीएचसी फैल गर्इ।इससे आहत होकर नर्स युवती छुट्टी कर अपने घर बुलंदशहर पहुंची।जहां उसने खुद के आत्म हत्या का प्रयास किया।अचानक मौके पर पहुंचे परिजनों ने युवती को बचा लिया।साथ ही उसने अस्पताल पहुंचाया।उन्होंने पूरा मामला जानने पर आरोपी आॅप्टोमेट्रिस्ट समेत अन्य के खिलाफ पुलिस को शिकायत दी।वहीं दादरी सीएचसी चिकित्सा अधीक्षक ने मामले की जानकारी मिलते ही ऑप्टोमिट्रिस्ट को तत्काल कार्यमुक्त करते हुए उच्च अधिकारियों को अवगत करा दिया। साथ ही आरोपित ऑप्टोमेट्रिस्ट का सहयोग करने वाले 3 डॉक्टरों को चेतावनी देते हुए स्पष्टीकरण मांगा गया है।

Ad Block is Banned