बैंक में लूट के आरोपी और पुलिस के बीच जमकर हुई ‘ठायं-ठायं’, दिखा ख़ौफ़नाक मंज़र

Highlights

-पुलिस ने एटीएस गोल चक्कर के पास से मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया

-बदमाश की पहचान अनुज दुबे के रूप में हुई है

-उसे घायल अवस्था में उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया

 

By: Rahul Chauhan

Published: 23 Oct 2020, 09:00 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

ग्रेटर नोएडा। बीटा-2 कोतवाली क्षेत्र स्थित इंडियन बैंक में हुई लूट के एक और आरोपी को पुलिस ने एटीएस गोल चक्कर के पास से मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। बदमाश की पहचान अनुज दुबे के रूप में हुई है। उसे घायल अवस्था में गिरफ्तार कर उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दरअसल बुधवार को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद अमित को गिरफ्तार किया जबकि अनुज दुबे पुलिस को चकमा देकर फरार होने में सफल हो गया था।

एडीसीपी विशाल पांडे ने बताया कि बीते 6 अक्टूबर को इंडियन बैंक में हुई लूट की घटना को अंजाम देने वाले बदमाशों को पकड़ने के लिए पुलिस की चार टीमे बनाई थी। पुलिस को उस समय बड़ी सफलता मिली थी, जब एक बदमाश अमित को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान गोली लागने के गिरफ्तार किया था। उस उसका साथी अनुज दुबे भागने में सफल रहा था। जिसे पुलिस ने एटीएस गोल चक्कर के पास से मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है।

एडिशनल डीसीपी विशाल पांडे ने बताया कि बैंक लूट में शामिल दूसरे बदमाश के संबंध में सुबह मिली सूचना के आधार पर बीटा-2 पुलिस की टीम ने एटीएस गोल चक्कर के समीप बदमाशों की घेराबंदी के दौरान बदमाश से मुठभेड़ हो गई। इस मुठभेड़ में अनुज दुबे नाम का बदमाश घायल हो गया, जो इंडियन बैंक लूट की घटना में शामिल है। आरोपित के कब्जे से बैंक से लूटी गई रकम में से 40 हज़ार नगद व 20 हज़ार की नकली करेंसी बरामद हुई है।

पुलिस पूछताछ के दौरान पता चला है कि आरोपी ने बैंक से लूटी गई रकम में से कुछ रकम नोएडा के सेक्टर 18 स्थित इंडियन ओवरसीज बैंक के अपने खाते में जमा करा दी थी। पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि वह बैंक लूट की घटना के अलावा नकली करेंसी का धंधा भी करता है। उसके कुछ साथी वर्तमान में जेल में बंद है। आरोपित लंबे समय से इस धंधे में लिप्त हैं।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned