लग्जरी गाड़ियाें को कंपनियों में किराए पर लगाने के बहाने हड़पने वाले गैंग का पर्दाफाश

ग्रेटर नोएडा सेक्टर बीटा-2 कोतवाली पुलिस ने ठगों के गिरोह का खुलासा करते हुए 12 लग्जरी गाड़ियाें के साथ एक आरोपी गिरफ्तार

By: lokesh verma

Published: 17 Apr 2021, 04:31 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
ग्रेटर नोएडा. सेक्टर बीटा-2 कोतवाली पुलिस ने ठगों के गिरोह का पर्दाफाश करते हुए एक सदस्य को गिरफ्तार किया है, जिसकी निशानदेही पर 12 लग्जरी गाड़ियां बरामद की गई हैं। ये गिरोह बड़ी-बड़ी कंपनियों किराए पर लगाने का झांसा देकर फर्जी एग्रीमेंट कर गाड़ियां हड़प लेता था और अन्य राज्यों मे ले जाकर जरायम पेशा और शराब तस्करों को बेच बेच देता था। इस गिरोह के दो अन्य सदस्य फरार हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस प्रयास कर रही है।

यह भी पढ़ें- आंधी-तूफान और बारिश ने मचाई भारी तबाही, मौसम विभाग ने फिर जारी किया 24 घंटे का अलर्ट

एडीसीपी विशाल पांडे ने बताया कि ये गैंग बड़ी कंपनियों में किराए पर लगाने का झांसा देकर फर्जी एग्रीमेंट कर गाड़ियां हासिल कर लेता था। फिर उसे दूसरे राज्य में ले जाकर बेचकर गायब हो जाता था। कोतवाली बीटा-2 पुलिस को मनोज शर्मा, गौरव शर्मा, कृष्ण कुमार, मैसर्स पल्लवी गारमेंट्स, सुमित गुप्ता ने बीटा-2 थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि आरोपी ने पीड़ितों के वाहन 20 हजार से 30 हजार रुपए प्रतिमाह किराए पर चलवाने का झांसा दिया था। इसके लिए एक साल का अनुबंध भी किया था। ऐसे में कई लोग आरोपी के झांसे में आ गए। आरोपी ने शुरू में तय किराये का भुगतान किया, लेकिन कुछ माह बाद किराया देना बंद कर दिया। रुपए मांगने पर टरकाता रहा और फिर फरार हो गया।

पुलिस ने शिकायत के बाद इस गैंग को पकड़े के लिए जाल बिछाया और साइट-4 के पास से आरोपी आसिफ निवासी बुलंदशहर को गिरफ्तार कर लिया। जबकि उसके साथी कुलदीप और कोमिल कुमार मौके से फरार हो गए, जिनकी तलाश पुलिस कर रही है। एडिशनल डीसीपी ने बताया कि अल्फा-2 में पीजी चलाने वाला कोमिल कुमार इस गैंग का मास्टरमाइंड है। बड़ी-बड़ी कंपनियों किराए पर लगाने का झांसा देकर फर्जी एग्रीमेंट कर गाड़ियां हड़प लेता था। कोमिल कुमार लोगों से हड़पी हुई कारों को कुलदीप और आसिफ को बेचता था। इसके बाद कुलदीप और आसिफ हरियाणा के शराब तस्करों आदि से इन कारों का सौदा करते थे। आरोपी कई कारों को इसी तरह से बेच चुके हैं। कोमिल की गिरफ्तारी के बाद अन्य आरोपियों के नाम भी सामने आ सकते हैं।

यह भी पढ़ें- संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी के फंदे पर लटकती मिली युवक की लाश, जांच में जुटी पुलिस

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned