नोएडा के इस लाल ने कर दिखाया यह कमाल, जानने के लिए पढ़िए खबर

नोएडा के इस लाल ने कर दिखाया यह कमाल, जानने के लिए पढ़िए खबर
manuj

पिछली बार यूपीएससी के एग्जाम में 693वीं रैंक हासिल की थी

ग्रेटर नोएडा। कुछ कर गुजरने की तमन्ना हो तो मंजिल को पाया जा सकता है। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है सूरजपुर के मनुज जिंदल ने। पिछली बार यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन (यूपीएससी) के एग्जाम में 693वीं रैंक हासिल की थी, लेकिन एग्जाम के आए रिजल्ट से उन्हें खुशी नही मिली। जिसकी वजह से वे दौबारा से यूपीएससी के एग्जाम में जुट गए और पूरे देश में इस साल 53वीं रैंक हासिल की है। समान्य परिवार से ताल्लुक रखने वाले मनुज के भाई भी आईएएस बनना चाहते है। उनकी इस उपलब्धि करने से जिले का नाम रोशन हुआ है। घर पर बधांई देने वाले लोगों का तांता लगा हुआ है।

सूरजपुर कस्बे के रहने वाले मनुज जिंदल ने आॅल इंडिया में 53वीं रैंक हासिल की है। मनुज के पिता थान सिंह की ईट बनाने की फैक्टरी है। उसमें राख से ईट बनाई जाती है। इनके तीन बेटे है, मनुज सबसे बड़े है। मनुज का छोटा भाई अनुज जिंदल भी आईएएस की तैयारी कर रहा है। इन्होंने दिल्ली में कोचिंग की है। मनुज के पिता थान सिंह ने बताया कि अनुज भी अब तक दो बार इंटरव्यू तक पहुंच चुके है। इनका सबसे छोटा भाई दिल्ली यूनिवर्सिटी से इकनामिॅक्स की ग्रुजेएशन कर रहे है। इनकी माता हाउस वाइफ है।

बधांई देने वालों का लगा तांता

थान सिंह ने बताया कि दिल्ली में कोचिंग सेंटर होने की वजह से इंदिरापुरम में परिवार के साथ शिफ्ट हुए थे। सूरजपुर से कोचिंग के लिए जाने में काफी समय बर्बाद हो जाता था। आईएएस में सफल होने पर इंदिरापुरम के साथ—साथ सूरजपुर में बधांई देने वाले लोगों का तांता लगा है। वहीं मनुज ने यूपी कैडर चुना है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned