पैसे के लेनदेन में एक ही परिवार के दो पक्षों में चली गोलियां, एक की मौत, दूसरे की हालत गंभीर

पिता-पुत्र को गोली मारकर फरार हुए आरोपी। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी। महिलाओं भी आई गंभीर चोटें।

ग्रेटर नोएडा। जेवर कोतवाली क्षेत्र में स्थित गांव चिरौली में पैसे के लेनदेन को लेकर एक ही परिवार के दो पक्षों में विवाद हो गया। जिसके बाद हुई मारपीट और फायरिंग में पिता और बेटे को गोली लग गई। गाँववालों ने दोनों को अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने बेटे को मृत घोषित कर दिया, जबकि की पिता की गंभीर अवस्था को देखते हुए नोएडा के लिए रेफर कर दिया गया है। फायरिंग करने वाले पक्ष के लोग मौके से फरार बताए जा रहे हैं। पुलिस ने मौके पर पहुँच मामले की जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: कोरोना काल में ऑनलाइन पिज्जा ऑर्डर करते समय हो जाएं सावधान

दरअसल, पीड़ित रामवीर की पड़ोस में ही रहने वाले पारिवारिक रिश्तेदार ओमवीर और उसके बेटे रोहित से पैसे के लेनदेन को लेकर कहासुनी हो गई थी। मामले ने तूल पकड़ा और दोनों पक्षों में झगड़ा होने लगा। इसी बीच रोहित समेत दो अन्य आरोपियों ने रामवीर और उसके बेटे पंकज उर्फ आशिक को गोली मार दी। डीसीपी ग्रेटर नोएडा राजेश सिंह ने बताया कि परिजन घायलावस्था में पिता-पुत्र को लेकर जेवर के निजी अस्पताल में पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने पंकज उर्फ आशिक को मृत घोषित कर दिया। वहीं, रामवीर की हालत गंभीर देखते हुए उसे नोएडा के लिए रेफर कर दिया है। फायरिंग करने वाले पक्ष रोहित और उसके साथी मौके से फरार हो गए, जबकि दूसरे पक्ष की 4 महिलाओं को भी चोट आई है। उनका मेडिकल कराया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: रेमडेसिवीर के बाद एक्टेमरा कालाबाजारी, कोरोना संक्रमितों को गंभीर हालत में दिया जाता है ये इंजेक्शन

डीसीपी ने बताया की प्रारम्भिक जांच से पता चला है कि रामबीर की बेटी और बेटे की शादी 9 मई और 14 मई को होनी थी। रामवीर समेत पूरा परिवार पंकज और उसकी बहन की शादी की तैयारी में जुटा था। इसी दौरान रामवीर की ओमवीर में पैसे के लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद मारपीट, पत्थरबाजी और फायरिंग हुई। घटना में आशिक की मौत हो गई है। वहीं, घायल रामवीर का उपचार कराया जा रहा है। फायरिंग करने वाले पक्ष रोहित और उसके साथी की तलाश की जा रही है।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned