वांशिग पाउडर बनाने की आड़ में बनाए जा रहे थे पटाखे और शराब, तीन गिरफ्तार, दो फरार

Highlights:

-दादरी थाना क्षेत्र के मथुरापुर गांव के जंगल में चल रही थी फैक्ट्री

-पुलिस ने पटाखे बनाने की मशीन औैर भारी मात्रा में अवैध पटाखे बरामद किए

-फरार आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

नोएडा। नोएडा और ग्रेटर नोएडा एनसीआर के उन शहरों में शामिल हैं, जहां एनजीटी ने बिगड़ती वायु गुणवत्ता के मद्देनजर पटाखों की बिक्री और इस्तेमाल पर पूरी तरह पाबंदी लगा रखी है। इसके बावजूद लोग अवैध पटाखे बनाने का कारोबार कर रहे हैं। ग्रेटर नोएडा दादरी थाना क्षेत्र में मथुरापुर गांव के जंगल में पुलिस और आबकारी विभाग की टीम ने छापेमारी कर ऐसी ही पटाखे की अवैध फ़ैक्टरी का पर्दाफाश किया है। इस फ़ैक्टरी से तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि दो मौके से फरार हो गए। ये लोग वांशिग पाउडर बनाने की आड़ में फ़ैक्टरी चला रहे थे। पुलिस ने मौके से कई मशीन और भारी मात्रा में अवैध पटाखों को बरामद किया है।

यह भी पढ़ें: महिला ने अपनी सहेली के देवर से बनवाए शारीरिक संबंध, खुद बैठकर बनाया MMS

एडिशनल डीसीपी ग्रेटर नोएडा विशाल पांडे ने बताया कि फैक्टरी से पुलिस ने जय भगवान, महेंद्र, रामगोपाल गिरफ्तार किया है, जबकि आकाश और मनीष मौके से फरार होने में सफल हो गए। जिनकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। वांशिग पाउडर बनाने की आड़ में पटाखे की अवैध फ़ैक्टरी चल रही है। ये गुप्त रूप मिली सूचना के बाद ये छापे मारी की गई। छापेमारी के दौरान पटाखे बनाने में प्रयोग होने वाली 5 मशीने व अन्य उपकरण, 13 बोरे व 3 कार्टून पैक बने हुए पटाखे, भारी मात्रा में अधबने पटाखे व पटाखे बनाने की सामग्री, 5 ड्रम आइसोप्रोपाइल अल्कोहल व एक पिकअप व एक स्कार्पियो गाड़ी बरामद हुए हैं।

यह भी देखें: कड़ी सुरक्षा में पहुंची कोरोना वैक्सीन

उन्होंने बताया कि पिछले कई माह से अवैध पटाखे की फैक्टरी कई चल रही थी। आरोपियों के पास फर्जी दस्तावेज़ भी मिले हैं, जिनकी जांच की जा रही है। पुलिस पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी हुई है कि यह विस्फोटक सामग्री कहां कहां सप्लाई की जाती थी। फरार बदमाशों की भी तलाश जारी है। जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned