सीरिया: राजधानी दमिश्क में एक के बाद एक पांच धमाके, इजरायल का हाथ होने की आशंका

सीरिया: राजधानी दमिश्क में एक के बाद एक पांच धमाके, इजरायल का हाथ होने की आशंका

Siddharth Priyadarshi | Publish: Sep, 02 2018 09:13:44 AM (IST) गल्फ

दावा किया गया है कि इन धमाकों की वजह से कई लोगों की मौत हो गई है और कई लोग घायल हो गए हैं

दमिश्क। सीरिया की राजधानी दमिश्क में रविवार सुबह एक के बाद एक पांच धमाके हुए। सिलसिलेवार हुए इन धमाकों से सीरिया की राजधानी दमिश्क थर्रा उठी। जानकारी के अनुसार यहां पांच धमाके हुए हैं। सुबह-सुबह हुए धमाकों में राजधानी दमिश्क की कई इमारतें हिल गई हैं। हालांकि अभी तक यह साफ नहीं हो सका है कि इन धमाकों के पीछे किसका हाथ है। सुरक्षा एजेंसियां अभी इस बात का अनुमान लगा रही हैं कि इन धमाकों की वजह से कितना नुकसान हुआ है।

दहल उठी राजधानी दमिश्क

सीरिया की स्टेट मीडिया के अनुसार यह धमाके सेना के एयर बेस के करीब हुए हैं। राजधानी के दक्षिण पश्चिम स्थित मेज़ेह हवाई अड्डे की दिशा में विस्फोट देखा और सुना गया । हाल के वर्षों में सीरिया में हवाईअड्डे को कई हवाई हमलों में लक्षित किया गया है। हालांकि अभी इन धमाकों के पीछे की वजह साफ नहीं हो सकी है, लेकिन माना जा रहा है कि ये धमाके किसी आतंरिक इलेक्ट्रिकल फाल्ट का नतीजा हैं। हालांकि इन धमाकों को शुरू में इजरायली सीन का हमला बताया गया था लेकिन बाद में इसके पीछे इजराइल का हाथ होने से इनकार किया गया है। पहले एक स्थानीय क्षेत्रीय गठबंधन के हवाले से दावा किया गया था कि इन धमाकों के पीछे इजराइल का हाथ है।

इजरायली हाथ होने की आशंका

सीरियन ऑब्सरवेटरी फॉर ह्मून राइट्स का कहना है कि इन धमाकों के पीछे इजराइल का हाथ है। दावा किया गया है कि इन धमाकों की वजह से कई लोगों की मौत हो गई है और कई लोग घायल हो गए हैं। कई और संगठनों ने भी दावा किया है कि इन हमलों के पीछे इजरायल का ही हाथ है। अभी कुछ दिन पहले ही इजराइल ने इस बात को स्वीकार किया था कि उसने सीरिया में ईरान और उसके सहयोगियों की ताकत को कम करने के लिए धमाके किए थे।

बताया जा रहा है कि ये विस्फोट एक तनावपूर्ण क्षण में हुए हैं क्योंकि सीरियाई सरकार सेना देश के उत्तर-पश्चिम में विद्रोहियों की आखिरी शरण स्थली पर हमला करने के लिए तैयार है। उधर अमरीका युद्ध में रासायनिक हथियारों का उपयोग करने के खिलाफ दमिश्क को चेतावनी दे रहा है, जबकि दमिश्क ने आरोप लगाया कि अमरीका सीरिया पर सैन्य अभियानों को न्यायसंगत बनाने के लिए रासायनिक हमले को गलत साबित करने की तैयारी कर रहा है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned