इजराइल: पीएम बेंजामिन नेतन्याहू की सत्ता में वापसी, रिकॉर्ड पांचवीं बार दर्ज की जीत

  • इजराइल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू की बड़ी कामयाबी
  • बेहद करीबी रहा चुनावी मुकाबला
  • छोटे दल बने किंगमेकर

By: Siddharth Priyadarshi

Updated: 11 Apr 2019, 08:53 AM IST

तेल अवीव। इजराइल में पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने लगातार पांचवी बार रिकॉर्ड जीत हासिल की है। देश के तीन प्रमुख टेलीविजन चैनलों ने बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने इजरायल के राष्ट्रीय चुनाव में जीत हासिल की है। अभी परिणामों की आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। चुनौती देने वाले विपक्षी नेता बेनी गैंट्ज़ के साथ बेहद करीबी फाइट में नेतन्याहू एक बार फिर से विजयी रहे हैं। लेकिन उन्हें सराकर चलाने के लिए छोटे दलों के सहयोग की जरुरत होगी। उम्मीद है कि चुनाव के बाद अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप अपने प्रशासन की लंबे समय से प्रतीक्षित मध्य पूर्व शांति योजना को जारी करेंगे।

जलियांवाला बाग हत्याकांड पर ब्रिटेन का बयान, माफी मांगने से पैदा होंगी कई मुश्किलें

बेंजामिन नेतन्याहू की सत्ता में वापसी

97 प्रतिशत मतों की गणना होने तक चुनाव में शामिल दोनों में से किसी भी उम्मीदवार की पार्टी को बहुमत नहीं मिला है, लेकिन नेतन्याहू स्पष्ट रूप से मजबूत की स्थिति में हैं क्योंकि अन्य दक्षिणपंथी गुटों ने उनके प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया है। नेतन्याहू इन दलों के साथ एक गठबंधन सरकार बना सकते हैं। भ्रष्टाचार के आरोपों के बावजूद यह चुनाव नेतन्याहू के चरित्र और आंतकवाद के मुद्दे पर जनमत संग्रह के रूप में लड़ा गया। बता दें कि नेतन्याहू भ्रष्टाचार के तीन मामलों में संभावित अभियोग का सामना कर रहे हैं। हालांकि उन्होंने किसी भी गलत काम से इंकार किया है। 2009 से लगातार सत्ता में रहे नेतन्याहू इन दिनों अपने राजनीतिक अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे हैं।

इजराइल में भी गूंजा 'मैं भी चौकीदार' का नारा, नेतन्याहू ने खुद को बताया ‘मिस्टर सिक्योरिटी’

कांटे की टक्कर

चुनाव की वेबसाइट और इजरायली टीवी चैनलों के अनुसार दिग्गज दक्षिणपंथी नेता की लिकुड पार्टी और गैंट्ज़ की नई मध्यमार्गी ब्लू एंड व्हाइट पार्टी दोनों ने 35-35 सीटें जीतीं। इसका मतलब है कि पिछले चुनाव की तुलना में लिकुड पार्टी के लिए पांच सीटों का लाभ होगा। जीत के बाद 69 वर्षीय नेतन्याहू ने लिकुड पार्टी मुख्यालय में समर्थकों के साथ अपनी खुशी का इजाहर किया। उन्होंने कहा, "यह एक महान जीत की रात है।" बता दें कि अभी आधिकारिक परिणामों की घोषणा नहीं की गई है। मीडिया की खबरों में बताया जा रहा है कि अंतिम नतीजे शुक्रवार तक आने की उम्मीद है। नेतन्याहू के 59 वर्षीय प्रतिद्वंद्वी गेंट्ज़ ने पहले जीत का दावा किया था। मंगलवार को मतदान समाप्त होने के तुरंत बाद प्रकाशित किए गए एग्जिट पोल का हवाला देते हुए कहा कि उनकी पार्टी लिकुड से अधिक सीटें जीत गई थी। पूर्व सैन्य प्रमुख गैंट्ज़ ने कहा, "हम विजेता हैं। हम राष्ट्र की सेवा के लिए बेंजामिन नेतन्याहू को धन्यवाद देना चाहते हैं।" अभियान के दौरान दोनों प्रतिद्वंद्वी दलों ने एक-दूसरे पर भ्रष्टाचार, कट्टरता को बढ़ावा देने और सुरक्षा पर नरम होने का आरोप लगाया था।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Siddharth Priyadarshi Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned