Hagia Sophia को मस्जिद में बदलने को लेकर Greek और Turkey में बढ़ी तकरार

HIGHLIGHTS

  • ग्रीक प्रधान मंत्री क्यारीकोस मित्सोटाकिस ( Greek prime minister Kyriakos Mitsotakis ) ने शुक्रवार को कहा कि इस्तांबुल में जो हो रहा है वह 'बल का प्रदर्शन नहीं, बल्कि कमजोरी का प्रमाण है'।
  • तुर्की के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हामी अक्सोई ने कहा कि हागिया सोफिया ( Hagia Sophia ) में मुस्लिमों के प्रार्थना करने को लेकर इस तरह की प्रतिक्रिया से एक बार फिर इस्लाम और तुर्की के प्रति ग्रीस की दुश्मनी ( Greece's hostility towards Islam and Turkey ) का पता चला है।

By: Anil Kumar

Updated: 25 Jul 2020, 06:36 PM IST

अंकारा। तुर्की ( Turkey ) के इस्तांबुल ( Istanbul ) स्थित ऐतिहासिक हागिया सोफिया ( Hagia Sophia ) में शुक्रवार को नमाज अदा की गई। लेकिन इसको लेकर अब बवाल शुरू हो गया है। हागिया सोफिया को म्यूजिम से मस्जिद में बदलने के खिलाफ ग्रीस ने सवाल खड़े कर दिए हैं। राष्ट्रपति एर्दोगन ( Turkish President Recep Tayyip Erdogan ) ने घोषणा की थी विश्व प्रसिद्ध हागिया सोफ़िया में 24 जुलाई से नमाज़ अदा की जाएगी।

ग्रीक प्रधान मंत्री क्यारीकोस मित्सोटाकिस ( Greek prime minister Kyriakos Mitsotakis ) ने शुक्रवार को कहा कि इस्तांबुल में जो हो रहा है वह 'बल का प्रदर्शन नहीं, बल्कि कमजोरी का प्रमाण है'।

तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगान का बेतुका बयान, कहा- कश्मीर सिर्फ PAK का नहीं, हमारे लिए भी है अहम

ग्रीक पीएम क्यारीकोस के बयान को लेकर तुर्की ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की। तुर्की के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हामी अक्सोई ( Turkish foreign ministry spokesman Hami Aksoy ) ने कहा कि हागिया सोफिया में मुस्लिमों के प्रार्थना करने को लेकर इस तरह की प्रतिक्रिया से एक बार फिर इस्लाम और तुर्की के प्रति ग्रीस की दुश्मनी का पता चला है।

हाल के महीनों में नाटो के सहयोगी अंकारा और एथेंस के बीच संबंध असहज हुए हैं, लेकिन हागिया सोफिया और पूर्वी भूमध्यसागर को लेकर तनाव बढ़ गया है। तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन शुक्रवार को हागिया सोफिया में 86 साल बाद पहली बार नमाज अदा करने के लिए हजारों नमाजियों के साथ शामिल हुए। इस महीने ही हागिया सोफिया को एक संग्रहालय से एक मस्जिद में बदला गया है।

ग्रीस में तुर्की के खिलाफ विरोध

हागिया सोफिया में नमाज अदा ( Namaz Pray In Hagia Sophia ) करने के खिलाफ ग्रीस में विरोध किया जा रहा है। विरोध-प्रदर्शन के दौरान तुर्की के राष्ट्रीय ध्वज को भी जलाया गया। इसको लेकर अस्कोसी ने थेसालोनिकी में तुर्की के झंडे को जलाने ( burning of the Turkish flag in Thessaloniki ) की कड़ी निंदा की और ग्रीक सरकार और संसद पर शत्रुतापूर्ण बयानों के साथ जनता को भड़काने का आरोप लगाया।

अकोसी ने एक बयान में कहा, यूरोप के बिगड़ैल बच्चे, जो हागिया सोफिया में नए सिरे से हो रहे नमाज को स्वीकार नहीं कर सकते, एक बार फिर भ्रम में हैं। बता दें कि तुर्की और ग्रीस के संबंध भी पलायन के मुद्दे को लेकर तनावपूर्ण हैं।

532 ईस्वी में बना था हागिया सोफिया

बता दें कि 1500 साल प्राचीन विरासत को समेटे यूनेस्को ( UNESCO ) की विश्व विरासत में शामिल इस विश्व प्रसिद्ध इमारत का निर्माण 532 ईस्वी में एक चर्च के रूप में हुआ था। जब 1453 में इस शहर पर इस्लामी ऑटोमन साम्राज्य ( Islamic Ottoman Empire ) का कब्जा हुआ तो इस खूबसूरत चर्च को तोड़कर मस्जिद में तब्दील कर दिया गया। हालांकि बाद में काफी विवादों के बाद करीब 500 साल बाद 1934 में इस मस्जिद को एक संग्रहालय में बदल दिया गया।

हागिया सोफिया का निर्माण बाइजेंटाइन साम्राज्य के शासक जस्टिनियन ( Byzantine Empire Ruler Justinian ) ने किया था। उस दौर में इस्तांबुल को कुस्तुनतुनिया या कॉन्सटेनटिनोपोल के नाम से जाना जाता था। इस इमारत को बनाने में पांच साल का वक्त लगा। जब 537 ईस्वी में बन कर तैयार हुआ तो इसे एक चर्च के रूप में स्थापित किया गया।

Turkey के शीर्ष कोर्ट का आदेश, विश्व विरासत Hagia Sophia Museum को बनाएं मस्जिद

इसके बाद करीब 950 साल बाद यानी की 1453 में इस शहर पर इस्लामी ऑटोमन साम्राज्य सुल्तान मेहमत द्वितीय ( Islamic Ottoman Empire Sultan Mehmat II ) ने हमला कर कब्जा कर लिया। इसी दौर में इस शहर का नाम कुस्तुनतुनिया से बदलकर इस्तांबुल रखा गया। फिर कुछ कट्टरपंथियों ने इस एतिहासिक चर्च को तोड़फोड़कर मस्जिद में बदल दिया।

1930 में फिर से एक नया मोड़ आया। आधुनिक तुर्की के संस्थापक कमाल अता तुर्क ( Kamaal Ata Turk, founder of modern Turkey ) ने धर्मनिरपेक्षता की मिशाल कायम करने के लिए इस मस्जिद को संग्राहलय में बदल दिया और फिर 1935 में हागिया सोफिया को बतौर एक म्यूजियम आम जनता के लिए खोल दिया गया।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned