दुबई में दिग्गज भारतीय व्यवसायी लक्ष्मन भाटिया का निधन

दुबई में दिग्गज भारतीय व्यवसायी लक्ष्मन भाटिया का निधन

Anil Kumar | Updated: 28 Jul 2019, 05:14:53 PM (IST) गल्फ

  • Indian businessman Lachman Bhatia 1975 से संयुक्त अरब अमीरात में रह रहे थे
  • लक्ष्मन भाटिया ने फाल्कन ट्रेडर्स की स्थापना की है, जो UAE में सबसे बड़ी निर्माण सामग्री वितरकों में से एक है

अबू धाबी। दिग्गज भारतीय व्यवसायी लक्ष्मन भाटिया ऊर्फ 'लच्छू भाटिया' ( Indian businessman Lachman Bhatia ) का शनिवार, 27 जुलाई को निधन हो गया। भाटिया का निधन अबू धाबी में हुआ। इस संबंध में उनके परिवार ने रविवार को इसकी जानकारी दी।

भाटिया 1975 से संयुक्त अरब अमीरात में रह रहे थे। 81 वर्षीय लच्छू भाटिया एक प्रवासी समुदाय में ही नहीं, बल्कि संयुक्त अरब अमीरात और खाड़ी क्षेत्र में एक प्रसिद्ध व्यक्ति थे।

उनके छोटे भाई श्याम भाटिया ने गल्फ न्यूज से बात करते हुए लच्छू भाटिया के दुर्भाग्यपूर्ण निधन की पुष्टि की। लच्छू भाटिया कई दिनों से बीमार चल रहे थे और बीते 16 जून से बुर्जिल अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था।

यूएई: खास अंदाज में मनाया गया पीएम मोदी के शपथ ग्रहण का जश्न, अबू धाबी के एडनॉक आइकॉनिक टॉवर पर लहराया तिरंगा

श्याम ने बताया कि शनिवार को लगभग 9.30 बजे निधन हो गया। उन्होंने कहा कि अल आइन में लच्छू भाटिया का अंतिम संस्कार सोमवार को किया जाएगा। परिवार ने बुधवार 31 जुलाई को शोक सभा आयोजित की है।

दिवंगत लच्छू भाटिया के परिवार में उनकी पत्नी मीरा भाटिया, बेटे मनीष भाटिया और बेटी रिया थरमल हैं।

Indian businessman Lachman Bhatia

फाल्कन ट्रेडर्स के संस्थापक हैं लच्छू भाटिया

बता दें कि लच्छू भाटिया संयुक्त अरब अमीरात ( UAE ) में सबसे बड़ी निर्माण सामग्री वितरकों में से एक फाल्कन ट्रेडर्स के संस्थापक हैं। इससे पहले, उन्होंने इंडियन ऑयल के लिए काम किया, जो शीर्ष फॉर्च्यून 100 सूची में स्थान पर है।

लच्छू भाटिया के भाई श्याम ने गल्फ न्यूज से कहा 'मैं विश्व कप क्रिकेट मैचों के लिए ब्रिटेन में था। भारत-पाकिस्तान मैच के दिन, मुझे मनीष का फोन आया कि पेट दर्द की शिकायत के बाद लच्छू को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।'

'उन्हें दो बार स्ट्रोक का सामना करना पड़ा। उनके आंत में खून का थक्का जम गया था हालांकि वे ठीक हो रहे थे, लेकिन फिर से बीमार पड़ गए और उन्हें एक बार फिर स्ट्रोक का सामना करना पड़ा। जिसके परिणामस्वरूप उनके मस्तिष्क, धमनियों, बड़ी और छोटी आंत में कई थक्के जम गए। दुर्भाग्य से, वह इस बार इससे उबर नहीं सके और उनका निधन हो गया।'

साथी की हत्या के आरोप में भारतीय दोषी करार, फोन पर तेज आवाज में बात करने के लिए ले ली थी जान

गल्फ न्यूज को एक टेलीफोन साक्षात्कार में जशनमल समूह की कंपनियों के शेयरधारक और भारतीय समुदाय के संरक्षक मोहन जशनमल झंगियानी ने लच्छू भाटिया के निधन पर दुख व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि ' वे एक सफल व्यवसायी और बहुत ही उत्साही व्यक्ति थे। वह बड़े दिल वाले इंसान थे। मैं 70 के दशक में क्रिकेट मैच के लिए उनसे मिला करता था जब हम एक साथ कई दोस्ताना खेल खेलते थे। उनके भाई श्याम भाटिया दुबई टीम के लिए क्रिकेट कप्तान थे और मैं अबू धाबी टीम के लिए कप्तान था।'

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned