भारतीय छात्र ने किया कमाल, रोबोट सैनेटाइजर दूर करेगा संक्रमण

Highlights

  • दुबई में रह रहे एक भारतीय स्कूली छात्र ने रोबोट सैनेटाइजर का इजाद किया है।
  • 0.5 सेटीमीटर से भी कम दूरी पर हाथ की पहचान कर सैनेटाइज कर सकता है।

By: Mohit Saxena

Updated: 22 Mar 2020, 11:20 AM IST

यूएई। कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने में हैंड सैनेटाइजर अहम रोल अदा कर रहा है। सैनेटाइजर की मांग इतनी तेजी से बढ़ रही है कि यह दुकानों से गयाब हो चुका है। लोगों को डिप्लीकेट सैनेटाइजर से काम चलाना पड़ रहा है। इस समस्या को कम करने के लिए यूएई में रह रहे एक भारतीय स्टूडेंट ने रोबोट सैनेटाइजर का इजाद कर दिया।

चीनी सरकार को अपनी भूल का हुआ पश्चाताप, आगाह करने वाले डॉक्टर के परिवार से मांगी माफी

यूएई में सातवीं कक्षा के स्टूडेंट ने एक रोबोट बनाया जो 0.5 सेटीमीटर से भी कम दूरी पर हाथ की पहचान कर उसे सैनेटाइज कर देता है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार छात्र दुबई के स्प्रिंग डेल्स स्कूल में पढ़ाई करता है, जिसका नाम सिद्ध सांघवी है। सिद्ध ने बताया कि उसकी मां ने एक वीडियो दिखाया था, जिसमें लोग अपने हाथों की सफाई के लिए सैनेटाइजर के डब्बे को बार-बार छूकर उससे तरल पदार्थ निकाल रहे हैं। सिद्ध का तर्क है कि बॉटल छूने से तो कोई भी संक्रमित हो सकता है। यहीं से उन्हें रोबोट बनाने का आइडिया आया।

सिद्ध ने कहा कि कोरोनो वायरस दूषित सतहों को छूने से फैलता है। बाल वैज्ञानिक सिद्ध के अनुसार इसलिए उन्होंने सोचा कि क्यों न साइंस, टेक्नॉलजी, इंजिनियरिंग व मैथ्स की मदद का उपयोग करके कुछ बनाया जाए। यह मशीन बिना किसी व्यक्ति के संपर्क में आए उसके हाथ को साफ कर सकती है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned