Iran: 13 साल की लड़की की Honor Killing में हत्या, राष्ट्रपति रूहानी ने कानून में बदलाव के दिए आदेश

HIGHLIGHTS

  • Honor Killing In Iran: 13 वर्षीय रोमीना अशरफी ( Romina Ashrafi ) नाम की लड़की की हत्या को अंजाम देने वाले आरोपी पिता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
  • राष्ट्रपति हसन रूहानी ( President Hassan Rouhani ) ने महिलाओं की रक्षा करने वाले बिल की त्वरित अध्ययन करने और उसे बहाल करने का आदेश दिया है।

By: Anil Kumar

Published: 07 Jun 2020, 07:29 PM IST

तेहरान। ईरान ( Iran ) में बीते दिनों 13 साल की एक लड़की की उसके पिता ने ऑनर किलिंग ( Honor Killin In Iran ) के नाम पर हत्या कर दी गई। इस हत्या के बाद पूरे ईरान में बवाल मच गया है। आम नागरिक से लेकर सियासी और सामाजिक संगठन ( social organization ) से जुड़े लोगों में काफी रोष देखने को मिल रहा है।

हालांकि मामले की संवेदना को देखते हुए राष्ट्रपति हसन रूहानी ( President Hassan Rouhani ) खुद सामने आ गए हैं और लड़की की हत्या पर खेद व्यक्त किया है। उन्होंने राजधानी तेहरान ( Tehran ) में एक कैबिनेट बैठक के दौरान हिंसा के खिलाफ महिलाओं की रक्षा करने वाले बिल की त्वरित अध्ययन करने और उसे बहाल करने का आदेश दिया है। इस हत्या को लेकर कई संस्थाओं ने घोर निंदा की है।

प्रेमी से मिलने पहुंची प्रेमिका को मां-बाप और भाभी ने की जिंदा जलाने की कोशिश, 90 फीसदी झुलसी

बता दें कि 13 वर्षीय रोमीना अशरफी ( Romina Ashrafi ) नाम की लड़की की हत्या को अंजाम देने वाले आरोपी पिता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। संदेह जताया जा रहा है कि नाराज पिता ने दरांती से बेटी की हत्या कर दी। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है और पिता से पूछताछ कर रही है। हालांकि अभी तक ये स्पष्ट नहीं हो सका है कि 29 वर्षीय युवक पर आपराधिक मुकदमा चलेगा या नहीं।

कानून में जल्द से जल्द हो बदलाव: एमनेस्टी

ईरानी मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रोमीना अशरफी 29 साल के अपने प्रेमी के साथ अपने घर से उत्तरी ईरान के तालेश काउंटी भाग गई थी। दोनों के बीच प्रेम संबंध था। जब इस बात की जानकारी पिता को हुई तो नाराज पिता ने बेटी की हत्या कर दी।

सुधारवादी, उदारवादी और सरकार समर्थक ईरानी मीडिया ने अशरफी की मौत को व्यापक रूप से कवर किया है। इन सबके बीच मानवाधिकार के लिए कार्य करने वाली सबसे बड़े संस्था एमनेस्टी इंटरनेशनल ( Amnesty international ) ने भी इस हत्या की निंदा की है और अधिकारियों से अपराध के लिए पूर्ण जवाबदेही सुनिश्चित करने का आह्वान किया।

Pakistan में Honour killing , वायरल वीडियो में दिखाई दीं किशोरियों को भाई ने मारा

एमनेस्टी ने एक ट्वीट करते हुए कहा था कि हम ईरान के अधिकारियों और सांसदों से आह्वान करते हैं कि वे महिलाओं/लड़कियों के खिलाफ हिंसा के लिए हिंसा को समाप्त करें और घरेलू हिंसा को आपराधिक बनाएं। उन्हें मृत्यु दंड का सहारा लिए बिना अपराध की गंभीरता के लिए जवाबदेही सुनिश्चित करने के लिए दंड संहिता के अनुच्छेद 301 में संशोधन करना होगा। संयुक्त राष्ट्र मानव अधिकारों के उच्चायुक्त के अनुसार, अनुच्छेद 301 'ऑनर किलिंग' में शामिल पिताओं के लिए दंडात्मक उपायों को कम करता है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned