ईरान: हिजाब के खिलाफ कैंपेन चलाना लड़की को पड़ा भारी, कोर्ट ने 24 साल की सुनाई सजा

ईरान: हिजाब के खिलाफ कैंपेन चलाना लड़की को पड़ा भारी, कोर्ट ने 24 साल की सुनाई सजा

Anil Kumar | Updated: 29 Aug 2019, 11:24:56 AM (IST) गल्फ

  • ईरान की रिवोल्यूशनरी कोर्ट ने हिजाब के खिलाफ कैंपने चलाने को लेकर अबतक सैंकड़ों लड़कियों को जेल भेज चुकी है
  • अगस्त 2018 में 'व्हाइट वेडनेसडे' कैंपेन चलाने को लेकर अफसरी को गिरफ्तार किया था

तेहरान। ईरान से एक ऐसी खबर सामने आई है, जो बहुत ही हैरान करने वाला है। दरअसल, ईरान की एक अदालत ने हिजाब पहनने की बाध्यता के खिलाफ अभियान चलाने वाली एक लड़की को 24 साल की सजा सुनाई है। ईरान की रिवोल्यूशनरी कोर्ट ने 20 वर्षीय अफसरी को बुर्के के खिलाफ 'व्हाइट वेडनेसडे' कैंपेन चलाने के लिए सजा सुनाई है।

हालांकि जैसे ही यह बात लोगों के सामने आई है, दुनियाभर में इसकी निंदा की जा रही है। जज ने अफसरी को सजा सुनाते हुए एक अजीबोगरीब तर्क दिया।

ट्यूनीशिया: डांसर नेर्मिन लड़ेंगी राष्ट्रपति चुनाव, हिजाब पर प्रतिबंध लगाने का किया वादा

जज ने कहा कि आपने अपने अभियान के जरिए महिलाओं का हिजाब उतरवाकर देश में भ्रष्टाचार और वैश्याविृत्ति को बढ़ावा दिया है। लिहाजा इस अपराध के लिए 24 साल की सजा में से 15 की सजा इन दो अपराधों के लिए दी जा रही है।

बता दें कि अफसरी को इससे पहले अगस्त 2018 में तेहरान में गिरफ्तार कर लिया गया था। उस समय उन्हें एक साल की सजा सुनाई गई थी, लेकिन वैश्विक स्तर पर दबाव बढ़ने के साथ ही फरवरी 2019 में रिहा कर दिया।

white_wednesday.jpg

'व्हाइट वेडनेसडे' कैंपेन क्या है

मालूम हो कि अफसरी और उनकी मां राहीला अहमदी ईरान में चलाए जा रहे 'व्हाइट वेडनेसडे' कैंपेन के प्रमुख हैं। दोनों मां-बेटी मिलकर ईरान में हिजाब के खिलाफ सोशल मीडिया पर व्हाइट वेडनेसडे कैंपने चला रहे हैं।

इस कैंपेन के जरिए बिना हिजाब पहने महिलाओं और लड़कियों की तस्वीरों व वीडियो को शेयर किया जा रहा है। साथ ही और लोगों से ज्यादा से ज्यादा शेयर करने की अपील भी की जा रही है।

इस कैंपेन को ईरान में महिला सशक्तिकरण से जोड़कर देखा जा रहा है। कैंपने के पहले हफ्ते में 200 वीडियो पोस्ट किए जा चुके हैं, जिसे पांच लाख लोगों ने देखा है।

हिजाब पहन रिंग में बेहिसाब रेसलिंग करती है ये महिला, वीडियो में देखें कैसे करती है धुनाई

सोशल मीडिया पर वायरल होते इन वीडियो को देखकर ईरान की रिवोल्यूशनरी कोर्ट हरकत में आ गई। कोर्ट ने एक आदेश जारी करते हुए कहा कि जो भी महिलाएं इस कैंपेन में हिस्सा लेगी या फिर इस तरह के कंटेट सोशल मीडिया पर डालेगी उसे 1 से 10 साल तक की सजा दी जाएगी।

इस फैसले के बाद से अब तक सैंकड़ों महिलाओं के जेल भेजा जा चुका है। इसी हफ्ते 12 महिलाओं को जेल की सजा सुनाई गई है।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned