ईरान ने एक और विदेशी टैंकर जब्त करने का किया दावा

  • ईरान ने फारस की खाड़ी से इससे पहले ब्रिटेन के तेल टैंकर को जब्त किया था
  • अमरीकी तेल टैंकरों पर हमले को लेकर ईरान-अमरीका के बीच तनाव बढ़ गया है

By: Anil Kumar

Updated: 05 Aug 2019, 07:30 AM IST

तेहरान। फारस की खाड़ी में तेल टैंकरों पर हमले या फिर जब्त करने को लेकर अमरीकाब्रिटेन के साथ बढ़ते तनाव के बीच ईरान ने एक और विदेशी टैंकर को जब्त करने का दावा किया है।

ईरानी मीडिया ने रिवोल्यूशनरी गार्ड्स ( Revolutionary Guard Corps ) के कोर कमांडर के हवाले से बताया है कि ईरानी नौसेनिक बलों ने फारस की खाड़ी में एक विदेशी टैंकर को जब्त कर लिया है, जो अरब देशों के लिए ईंधन की तस्करी कर रहा था।

ईरान ने अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो की पेशकश ठुकराई, दोनों देशों में बढ़ी तकरार

आगे यह भी कहा गया है कि टैंकर में 700,000 लीटर ईंधन भरा हुआ था। टैंकर में सवार सात नाविकों को हिरासत में लिया गया है।

बता दें कि अमरीका की ओर से ईरान के तेल क्षेत्र पर प्रतिबंधों को कड़े किए जाने के बाद यह घटना सामने आई है। वाशिंगटन ने 2015 परमाणु समझौते से खुद को अलग करने के बाद तेहरान पर कई प्रतिबंधों को फिर से लागू किया है।

तेल टैंकर

दूसरी बार ईरान ने जब्त किया टैंकर

मालूम हो कि यह दूसरी बार है जब ईरान ने एक टैंकर पर ईंधन की तस्करी का आरोप लगाया है। 13 जुलाई को ईरानी कोस्टगार्ड ने पनामा के प्रमुख एमटी रिया ( MT Riah ) को हिरासत में लिया था।

रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स के सैनिक ने कहा था कि गश्ती और तस्करी का पता लगाने के उद्देश्य से नौसेना के गश्ती टीम ने तेल टैंकरों को जब्त किया था।

ब्रिटेन की ईरान से अपील- रिहा करें अवैध रूप से जब्त किया तेल टैंकर

इसके अलावा पिछले महीने, ईरान ने हॉरमुज के जलडमरूमध्य में ब्रिटिश सेना के टैंकर स्टेना इम्पो को जब्त कर लिया था। ईरान ने आरोप लगाया था कि तेल टैंकर मछली पकड़ने के एक जहाज से टकरा गया था।

अमरीका ने मई और जून में ओमान की खाड़ी में अलग-अलग तेल टैंकरों पर हमला करने के मामलों में ईरान को दोषी ठहराया था, हालांकि एक मामले में ईरान ने साफ इनकार किया था।

इसके बाद ईरान ने एक अमरीकी ड्रोन को भी मार गिराया था, जिसके बाद अमरीका और ईरान के बीच तल्खियां काफी बढ़ गई है।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned