Iran: 28 साल की आयु तक शादी नहीं करने वालों पर लगे Tax, धर्मगुरू इदरीसी ने संसद में रखा प्रस्ताव

HIGHLIGHTS

  • ईरान ( Iran ) में घटती जन्मदर ( Birth Rate ) को देखते हुए धर्मगुरु मोहम्मद इदरीसी ( Religious leader mohammad idrisi ) ने संसद और प्रशासन में प्रस्ताव रखा है कि 28 साल की उम्रम तक शादी नहीं करने वालों पर टैक्स ( Tax ) लगाया जाना चाहिए।
  • उन्होंने कहा है कि अविवाहितों को देश के विश्वविद्यालयों और उच्च प्रबंधकीय पदों पर पढ़ाने जैसी महत्वपूर्ण भूमिका भी नहीं देनी चाहिए।
  • ईरान में अभी पुरुष औसतन 28.1 वर्ष की उम्र में, जबकि लड़कियां औसतन 23.4 वर्ष में विवाह कर रही हैं।

 

By: Anil Kumar

Updated: 17 Jun 2020, 08:42 PM IST

तेहरान। शादी-विवाह ( Wedding ) एक पवित्र बंधन है। हर देश में अलग-अलग रीति-रिवाज और परंपरा ( Tradition ) के अनुरूप लोग शादी करते हैं। कई ऐसे लोग हैं जो शाही नहीं करना चाहते हैं और अब तक नहीं भी किया है। शादी करना या नहीं करना व्यक्ति का अपना विचार और निर्णय होता है। इसपर कोई भी शादी के लिए दबाव नहीं बना सकता है।

लेकिन ईरान ( Iran ) से एक ऐसी खबर सामने आई है, जो बहुत ही चौंकाने वाला है। दरअसल, ईरान की संसद ( Iran Parliament ) में एक प्रस्ताव रखा गया है, जिसमें शादी नहीं करने वालों पर टैक्स लगाने की वकालत की गई है। दरअसल, ईरान में घटती जन्मदर ( Birth Rate ) को देखते हुए धर्मगुरु मोहम्मद इदरीसी ( Religious leader mohammad idrisi ) ने संसद और प्रशासन को अनोखा प्रस्ताव दिया है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट का फैसला, बालिग को अपनी मर्जी से शादी करने का अधिकार, किसी को हस्तक्षेप का हक नहीं

उन्होंने अपने प्रस्ताव में कहा है कि शादी नहीं करने वालों पर टैक्स लगाया जाना चाहिए। जो भी 28 साल की आयु तक शादी नहीं करता है, उससे एक दंपती की शादी पर होने वाले खर्च जितना टैक्स ( Tax ) वसूला जाना चाहिए। इतना ही नहीं, अविवाहितों को देश के विश्वविद्यालयों ( University ) और उच्च प्रबंधकीय पदों पर पढ़ाने जैसी महत्वपूर्ण भूमिका भी नहीं देनी चाहिए।

सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस

आपको बता दें कि संसद में प्रस्ताव देने के बाद उन्होंने कहा कि इसका मकसद सेना में जवानों की संख्या बढ़ाना है। इससे देश मजबूत होगा। इस प्रस्ताव को लेकर सोशल मीडिया ( Social Media ) पर बहस छिड़ गई है। लोग ट्विटर पर बाकायदा #compulsorymarriage के साथ अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं भी दे रहे हैं।

एक यूजर ने लिखा ‘अगर इस नियम को लागू किया गया तो मैं सबसे पहले एक कार या एक घर के पुरस्कार की हकदार बनूंगी, क्याेंकि मैंने 18 साल में ही शादी कर ली है। क्या मुझे इसका कोई फायदा मिलेगा?’ एक अन्य यूजर ने लिखा ‘मैं शादी की उम्र काे लेकर नहीं, बल्कि इस बात से परेशान हूं कि संसद में अगला बिल ये पेश न कर दिया जाए कि 30 साल से पहले एक बच्चा भी अनिवार्य ताैर पर हाे।’ एक यूजर ने लिखा ‘मैं अब शादी से सिर्फ एक साल, एक माह व 12 दिन ही पीछे हूं।’

जन्मदर में गिरावट

ईरान में लगातार जन्मदर में गिरावट देखने को मिल रहा है। 2020 में जन्मदर 2.97% और 2019 में 2.88% गिरी है। ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खमेनी ( Ayatollah Ali Khamenei ) चाहते हैं कि देश की आबादी 2050 तक 8.18 करोड़ से दोगुनी हो जाए। यही कारण है कि ईरान में सरकार ने कुंआरों के लिए मेट्रिमोनियल साइट ( Matrimonial site ) शुरू करने जैसे कई कदम उठाए हैं। लेकिन इसके बावजूद भी लोग शादी नहीं करना चाह रहे हैं।

प्रयागराज में अनोखी शादी, पिता का मन रखने के लिए बेटे ने लकड़ी के पुतले के साथ लिए सात फेरे

ईरान में कानूनी तौर पर अभी लड़कियाें व लड़कों के लिए शादी की उम्र क्रमश: 18 और 20 साल है, हालांकि इसके बावजूद भी 13 और 15 साल में शादी की इजाजत दे दी जाती है। ईरान में अभी पुरुष औसतन 28.1 वर्ष की उम्र में, जबकि लड़कियां औसतन 23.4 वर्ष में विवाह कर रही हैं।

 

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned