जनरल कासिम सुलेमानी की मौत में शामिल CIA जासूस को फांसी देगा ईरान

HIGHLIGHTS

  • अमरीकी खुफिया एजेंसी सीआईए ( US Intelligence Agency CIA ) और इजरायल की खुफिया एजेंसी मोसाद ( Israeli intelligence agency Mossad ) के लिए जासूसी करने वाले महमूद मौसवी मज्द ( Mahmood Mousavi Mazd ) को फांसी की सजा सुनाई गई है।
  • अमरीका ने सुलेमानी को मध्य-पूर्व क्षेत्र में अमरीकी सेना पर हुए हमलों का मास्टरमाइंड बताते हुए कहा था कि उसने अमरीकी नागरिकों और अपने सैनिकों की सुरक्षा के लिए ईरानी कमांडर सुलेमानी को मार गिराया है।

By: Anil Kumar

Published: 09 Jun 2020, 10:36 PM IST

तेहरान। बीते साल अमरीकी ड्रोन हमले ( Drone Attack ) में बगदाद में मारे गए ईरान रिवलूशनरी गार्ड के कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी ( Qasem Soleimani Killing ) की खुफिया जानकारी देने वाले एक जासूस को मौत की सजा दी जाएगी। ईरान ( Iran ) ने फैसला किया है कि सुलेमानी की गुप्त जानकारी अमरीका ( America ) और इजरायल ( Israel ) को देने वाले एक जासूस को फांसी की सजा ( Detective hanged ) दी जाएगी।

ईरान की जूडिशरी के प्रवक्ता गुलाम हुसैन इस्माइली ने दोषी की पहचान महमूद मौसवी मज्द के रूप में की और इसके आगे कुछ जानकारी देने से इनकार कर दिया। इस्माइली ने आरोप लगाया कि मौसवी ने सुलेमानी की खुफिया जानकारी अमरीका और इजरायल को दी। मौसवी को रिवॉल्यूशनरी कोर्ट ( Revolutionary Court ) में सजा सुनाई गई थी और सुप्रीम कोर्ट ने इस फैसले को बरकरार रखा है। ईरान ने कहा है कि CIA के जासूस को जल्द ही फांसी पर चढ़ाया जाएगा।

ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने अमरीका को दी चेतावनी, कहा- खाड़ी से बाहर रहें विदेशी ताकतें

बता दें कि सुलेमानी के मारे जाने के बाद ईरान ने कहा था कि वह अमरीका से बदला लेगा और फिर इराक स्थित अमरीकी एयरबेस को निशाना बनाते हुए ईरान ने रॉकेट हमला किया था। इसके बाद दोनों देशों के बीच काफी तनाव बढ़ गया था। अमरीका ने सुलेमानी को मध्य-पूर्व क्षेत्र में अमरीकी सेना पर हुए हमलों का मास्टरमाइंड बताते हुए कहा था कि उसने अमरीकी नागरिकों और अपने सैनिकों की सुरक्षा के लिए ईरानी कमांडर सुलेमानी को मार गिराया है।

मौसवी के CIA और मोसाद से जुड़े होने का शक

इस्माइली ने आरोप लगाते हुए कहा है कि मौसवी अमरीकी खुफिया एजेंसी CIA और इजरायली खुफिया एजेंसी मोसाद से जुड़ा है। हालांकि उन्होंने इसके लिए कोई सबूत नहीं दिया। उन्होंने ये नहीं बताया कि मौसवी को कब फांसी होगी, लेकिन कहा कि बहुत जल्द होगी।

आपको बता दें कि अमरीकी वायुसेना ( American Air force ) ने बगदाद एयरपोर्ट के करीब एक ड्रोन अटैक में सुलेमानी को मार गिराया था। इस हमले में ईरान समर्थित मिलीशिया के उप कमांडर अबू मेहदी अल मुहांदीस की भी मौत हो गई थी। इसके बाद ईरान ने अमरीका से बदला लेने के लिए इराक स्थित एयरबेस पर एक के बाद एक कई रॉकेट दागे। दावा किया गया कि इसमें कई अमरीकी सैनिक मारे गए हैं।

ईरान ने अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो की पेशकश ठुकराई, दोनों देशों में बढ़ी तकरार

इस बीच उसी रात गलती से उक्रेन ( Ukrain ) के एक यात्री विमान को ईरानी मिसाइल ( Missile Attack ) ने निशाना बना दिया। इस विमान में सवार सभी 176 यात्रियों की मौत हो गई थी। इसको लेकर ईरान की चौतरफा घेराबंदी की गई। बाद में ईरान ने यह स्वीकार किया कि गलती से विमान को निशाना बनाया गया।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned