इराक: चार महीने से चल रहे सरकार विरोधी प्रदर्शन के बीच मुहम्मद तौफीक अल्लावी बने नए प्रधानमंत्री

  • इराक ( Iraq ) में बीते चार महीनों से सरकारी विरोधी प्रदर्शन हो रहे हैं
  • प्रदर्शन ( Protest In Iraq ) के दौरान अब तर करीब 500 प्रदर्शनकारी मारे गए हैं

By: Anil Kumar

Published: 02 Feb 2020, 03:29 PM IST

बगदाद। सियासी संग्राम के बीच इराक ( Iraq ) को नया प्रधानमंत्री मिल गया है। मुहम्मद तौफीक अल्लावी ( Mohammad Taufiq Allawi becomes new Prime Minister of iraq ) इराक के नए प्रधानमंत्री बन गए हैं। इस बात की घोषणा इराकी राष्ट्रपति बरहम सालेह ( President of Iraq Barham Salih ) ने की है।

पिछले चार महीने से देश में लगातार हो रहे सरकार विरोधी प्रदर्शन ( Protest Against Iraq Government ) के बीच यह बड़ी खबर सामने आई है। प्रदर्शन के दौरान अब तक 500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। लिहाजा अब बतौर प्रधानमंत्री तौफीक अल्लावी के सामने बहुत बड़ी चुनौती है।

इराक में सरकार विरोधी प्रदर्शन तेज, पुलिस व प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़प में दो की मौत

बता दें कि आधिकारिक घोषणा के बाद शनिवार को तौफीक अल्लावी ने एक वीडियो संदेश के माध्यम से प्रदर्शनकारियों से संवाद किया। उन्होंने ट्वीटर पर पोस्ट किए अपने वीडियो संदेश में प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा 'मुझे आपकी वजह से सत्ता मिली है। आपके साहस और बलिदान की वजह से देश में बदलाव आया है। आपने अपने देश के लिए के लिए प्रदर्शन किया। अगर मैं आपकी मांगों को पूरा करने में सक्षम नहीं होता हूं तो मैं इस पद के लिए अयोग्य हूं।'

मांग पूरी न होने तक जारी रखें प्रदर्शन: अल्लावी

आपको बता दें कि तौफीक अल्लावी ने आगे अपने संदेश में प्रदर्शनकारियों से कहा कि वे तब तक प्रदर्शन जारी रखें, जब तक की आपकी मांग पूरी न हो जाए। 65 वर्षीय अल्लावी ने प्रदर्शनकारियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा के वे पीछे न हटें और प्रदर्शन जारी रखें।

अल्लावी ने अपने संबोधन में लोगों से वादा किया कि विरोध प्रदर्शन मारे गए 467 लोगों के परिवारों को मुआवजा दिया जाएगा और घायल हुए 9,000 से अधिक लोगों के लिए उचित चिकित्सा देखभाल सुनिश्चित की जाएगी।

इराक ने की ईरानी हमले की पुष्टि, कहा- तेहरान ने दागी 22 मिसाइलें, एक भी इराकी नागरिक की मौत नहीं

गौरतलब है कि 65 वर्षीय अल्लावी पूर्व प्रधानमंत्री नूरीअल-मलिकी की सरकार में संचार मंत्री रह चुके हैं। उन्होंने इस पद से तत्कालीन प्रधानमंत्री पर राजनीतिक हस्तक्षेप का आरोप लगाकर इस्तीफा दे दिया था।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned