इजराइल की बड़ी कार्रवाई, येरुशलम में तोड़े फिलीस्तीनियों के घर

इजराइल की बड़ी कार्रवाई, येरुशलम में तोड़े फिलीस्तीनियों के घर

Shweta Singh | Updated: 22 Jul 2019, 05:52:24 PM (IST) गल्फ

  • येरूशलम में इजराइल (Israel) ने तोड़े फिलीस्तीनियों के घर तोड़ने की कार्रवाई शुरू कर दी है
  • इजराइल में अब तक 900 से अधिक फिलिस्तीनियों की गिरफ्तारी हो चुकी है

येरुशलम। इजराइल और फिलीस्तीनियों ( Israel and Palestine ) के तनाव अब बार फिर बढ़ता नजर आए रहा है। सैंकड़ों फिलीस्तीनियों की गिरफ्तारी के बाद इजराइल ने अब उनके घरों को नष्ट ( homes demolished ) करना शुरू कर दिया है।

दक्षिण येरूशलम ( Jerusalem ) में स्थित इन घरों को अवैध बताते हुए सोमवार तड़के यह कार्रवाई शुरू की गई। इस बारे में एक समाचार एजेंसी की ओर से जानकारी मिल रही है, जिसने अतंरराष्ट्रीय चिंताओं को जन्म दिया है।

कार्रवाई से बेहद दुखी हुए इलाके के निवासी

इजराइल के सुर बहर इलाके में दर्जनों पुलिसकर्मी और सेना की टुकड़ियों ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया। रिपोर्ट के मुताबिक इजराइल सुरक्षा बैरियर के पास चार बिल्डिंगों को अपने कब्जे में ले लिया गया। इसके बाद अर्थमूवर मशीनरी ने धीरे-धीरे उन्हें तोड़ना शुरू किया। इस दौरान वहां के लोग बेसहारा होकर मदद की गुहार लगाते नजर आ रहे थे। एक आदमी को जब जबरन उसका घर खाली करने को कहा गया तो उसने चिल्लाते हुए

तो इसलिए तोड़े गए घर..

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस कार्रवाई के दौरान पत्रकारों को इस इलाके में दाखिल होने से रोका जा रहा था। जबकि कार्यकर्ताओं और निवासियों को वहां से जबरन निकाला जा रहा था। इजराइल का कहना है कि यहूदी और वेस्ट बैंक को अलग करने वाली सीमा के पास बने ये घर दीवार के बेहद नजदीक थे। इसलिए इन्हें तोड़ा जा रहा है।

काहिरा के लिए ब्रिटिश एयरवेज की सभी उड़ानें 7 दिनों के लिए रद्द

 

900 से अधिक फिलिस्तीनियों के गिरफ्तारी

फिलीस्तीनियों का आरोप है कि इजराइल सुरक्षा का झूठा हवाला देकर उन्हें उनके इलाके से निकालने की कोशिश में है। गौरतलब है कि हाल ही में आई फिलिस्तीनी कैदियों के अध्ययन केंद्र (PCHR) की रिपोर्ट में बताया गया है कि इस साल की शुरुआत से इजराइल ने येरूशलम में भारी संख्या में फिलिस्तीनियों की गिरफ्तारी की हुई है। इस दौरान करीब 900 से अधिक फिलिस्तीनियों की गिरफ्तारी के मामले सामने आए है।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

 

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned